गोदरेज इंडस्‍ट्रीज और संबद्ध कंपनियों ने ‘गुड एंड ग्रीन’ के सफर के 10 वर्ष पूरे होने का उत्‍सव मनाया - Pinkcity News

Breaking News

Friday, 30 July 2021

गोदरेज इंडस्‍ट्रीज और संबद्ध कंपनियों ने ‘गुड एंड ग्रीन’ के सफर के 10 वर्ष पूरे होने का उत्‍सव मनाया

  • सुविधा से वंचित 500,000 लोगों को प्रशिक्षण दिया
  • 3.5 मिलियन लोगों को वेक्‍टर-जनित रोगों से बचाने के लिये काम किया

मुंबई 29 जुलाई 2021: दुनिया को रोजगार के लिये ज्‍यादा योग्‍य और हरित बनाने के वादे के साथ, गोदरेज इंडस्‍ट्रीज और संबद्ध कंपनियों ने आज स्‍थायित्‍व की यात्रा के दस वर्ष पूरे करने का उत्‍सव मनाया है। कंपनी ने ‘गुड एंड ग्रीन विजन’ के पहले चरण के समापन की घोषणा की है, जिसने उसके पर्यावरणीय, स्‍वास्‍थ्‍यरक्षा और शिक्षा (सामाजिक) सम्‍बंधी अधिकांश लक्ष्‍यों से बढ़कर प्रदर्शन किया था।

पर्यावरणीय और सामाजिक प्रभाव को केन्‍द्र में रखते हुए, पिछले एक दशक में गोदरेज ने आधे मिलियन से ज्‍यादा सुविधा से वंचित लोगों को सफलतापूर्वक प्रशिक्षण और सहयोग दिया है। यह उनकी आय बढ़ाने के लिये किया गया है और साथ ही 3.5 मिलियन लोगों को वेक्‍टर-जनित रोगों से सुरक्षित रहने में सक्षम बनाया गया है।

पिछले दशक की अन्‍य महत्‍वपूर्ण उपलब्धियों में यह शामिल है कि गोदरेज इंडस्‍ट्रीज और संबद्ध कंपनियों का रिन्‍यूएल पोर्टफोलियो अब 50% पर है, जिसके लिये 30% का लक्ष्‍य रखा गया था। गोदरेज की कंपनियों में खपने वाली आधे से अधिक ऊर्जा नवीकरण योग्‍य स्रोतों से आती है और गोदरेज द्वारा उत्‍पादित प्रत्‍येक टन उत्‍पादों में 30% कम ऊर्जा और 35% कम पानी का इस्‍तेमाल होता है और लगभग 50% कम उत्‍सर्जन तथा 75% कम कचरा निकलता है। 

गोदरेज इंडस्‍ट्रीज के मैनेजिंग डायरेक्‍टर और चेयरमैन नादिर गोदरेज ने इस उपलब्धि पर कहा, ''हम बिजनेस से आगे बढ़कर भारत को ज्‍यादा समावेशी और हरित बनाना चाहते थे। मुझे गर्व है कि अपनी टीम की सहायता से हमने अपने पर्यावरणीय और सामाजिक लक्ष्‍यों में बेहतरीन परिणाम दिये हैं और उनसे आगे बढ़कर काम किया है। इस सफर में हमें नई चुनौतियाँ मिलीं और हमने कुछ सबक भी सीखे। पहला दशक पूरा होने के बाद, अब हम स्‍थायित्‍व से जुड़े ज्‍यादा बड़े और साहसिक लक्ष्‍यों की ओर देख रहे हैं और देश को ज्‍यादा समान और हरित बनाना चाहते हैं।''

स्‍थायित्‍व की यात्रा जारी रखने के लिये, गोदरेज इंडस्‍ट्रीज और संबद्ध कंपनियों ने व्‍यवसायों के अनुसार ज्‍यादा साहसिक लक्ष्‍य तैयार किये हैं। उनका लक्ष्‍य अगले पाँच वर्षों में उभरती अर्थव्‍यवस्‍थाओं से आने वाले लगभग 150,000 लोगों को कुशलताओं और आजीविका में सहयोग से सशक्‍त करना है, ताकि उनकी आय बढ़े। साथ ही 10 मिलियन लोगों को वेक्‍टर-जनित रोगों से बचाने का लक्ष्‍य भी है। रोजगार-योग्‍यता और सार्वजनिक स्‍वास्‍थ्‍य प्रणालियों को मजबूत करने के अलावा, कंपनी भारत की 8 नगरपालिकाओं के लिये अपशिष्‍ट प्रबंधन प्रणालियों को क्षमतावान बनाने पर केन्द्रित हो रही है, जिससे 10 मिलियन लोग लाभान्वित होंगे। गोदरेज के सभी उत्‍पादों में से एक-तिहाई को वर्ष 2020 से ज्‍यादा हरित भी बनाया जाएगा, कार्बन न्‍यूट्रलिटी, वाटर पॉजिटिविटी मैंटेन की जाएगी, और कचरा बिलकुल नहीं किया जाएगा। 

स्‍थायित्‍व के इन लक्ष्‍यों की प्राप्ति के लिये, गोदरेज इंडस्‍ट्रीज और संबद्ध कंपनियों ने कुछ कार्यान्‍वयन भागीदारों के साथ गठजोड़ किया है। इन भागीदारों ने विश्‍लेषण, समाधान प्रदान करने में मदद की है और विशेष समस्‍याओं को हल करने में सहयोग दिया है, ताकि सामाजिक और पर्यावरणीय प्रगति को बढ़ावा मिले।

 

No comments:

Post a Comment

Pages