कोरोना महामारी से बिज़नेस पर पड़े नकारत्मक प्रभावों पर हुई चर्चा - Pinkcity News

Breaking News

Monday, 4 May 2020

कोरोना महामारी से बिज़नेस पर पड़े नकारत्मक प्रभावों पर हुई चर्चा


- वेबीनार्स के द्वारा विमेंस मेंटर फोरम ने आयोजित की चर्चा
- 'फाइंडिंग योर पर्पस इन द न्यू नार्मल' पर स्मिता मांकड़ ने किया सम्बोधित
जयपुर, 4 मई। कोरोना महामारी के खिलाफ वर्तमान में दुनिया आम जीवन के साथ ही बिज़नेस में भी नकारत्मक प्रभावों से संघर्ष कर रही है। ऐसे में 'विमेंस मेंटर फोरम', (डब्लूएमएफ) वेबीनार्स और वेबकास्टस के ओर से मौजूदा समय में बिज़नेस से जुड़े महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा आयोजित की जा रही है। इसी कड़ी में सोमवार को डब्लूएमएफ द्वारा आयोजित चर्चा में 100 वाइटल वॉइसेस की एलुमनाई, स्मिता मंकड ने 'फाइंडिंग योर पर्पस इन द न्यू नार्मल' पर चर्चा की।

 इस चर्चा को आर्च कॉलेज ऑफ़ डिज़ाइन एंड बिज़नेस की फाउंडर और डायरेक्टर, विमेंस मेंटर फॉर्म की चेयरपर्सन और वाइटल वॉइसेस की लीड फेलो, अर्चना सुराणा ने मॉडरेट किया। इस दौरान चर्चा में कम्युनिटीज के साथ जुड़ना, लोकल के साथ ग्लोबल प्रजेंस, बदलाव के बारे में अध्यन करना, खुद का पूर्ण सृजन करना और कोरोना लॉकडाउन के दौरान धीमे बिज़नेस बदलावों पर गहराई से काम करना, जैसे कुछ गहन मुद्दें खास रहे।
इसी के साथ चर्चा के दौरान जीवन में लक्ष्य ढूंढ़ने के साथ ही पीस, सक्सेस और संतुष्टि को खोजना और जापानी कांसेप्ट 'इकिगाई' पर भी रौशनी डाली गई।

स्मिता मंकड, फैबइंडिया की इंडिपेंडेंट डायरेक्टर और सोशल एंटरप्राइज कंसलटेंट और फॉर्मर मैनेजिंग पार्टनर है। साथ ही वाइटल वॉइसेस यूएसए की टॉप 100 एलुमनाई के रूप में महिलाओं के विकास के लिए भी कार्यरत है।

No comments:

Post a comment

Pages