टाटा पावर एसईडी को रक्षा मंत्रालय से मिला 1200 करोड़ रुपयों का कॉन्ट्रैक्ट - Pinkcity News

Breaking News

Monday, 11 May 2020

टाटा पावर एसईडी को रक्षा मंत्रालय से मिला 1200 करोड़ रुपयों का कॉन्ट्रैक्ट

भारतीय वायु सेना, नौसेना और तटरक्षक दल के 37 एयरफील्ड्स की बुनियादी सुविधाओं के आधुनिकीकरण का काम टाटा पावर एसईडी को सौंपा गया
Tata Power may pull the plug on new coal power, says study ... नई  दिल्ली 11 मई, 2020:  टाटा पावर कंपनी लिमिटेड (टाटा पावर) के टाटा पावर स्ट्रैटेजिक इंजीनियरिंग डिवीज़न (टाटा पावर एसईडी) को भारत सरकार के रक्षा मंत्रालय से भारतीय वायु सेना, नौसेना और तटरक्षक दल के 37 एयरफील्ड्स की बुनियादी सुविधाओं के आधुनिकीकरण का काम सौंपा गया है। इस महत्वपूर्ण कॉन्ट्रैक्ट पर दस्तखत किए  जाने की घोषणा टाटा पावर एसईडी ने आज की।  इस कॉन्ट्रैक्ट को अगले 4 सालों में पूरा करना है।

कुल 1200 करोड़ रुपये अनुमानित मूल्य के इस कॉन्ट्रैक्ट में कैट II इन्स्ट्रुमेंट लैंडिंग सिस्टम और कैट II एयरफील्ड लाइटनिंग सिस्टम जैसे आधुनिक एयरफील्ड उपकरणों की आपूर्ति, इंस्टालेशन और उन्हें शुरू करने के साथ अन्य नेविगेशनल एड्स और एयर ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम और आवश्यक सिविल, इलेक्ट्रिकल बुनियादी सुविधाएं निर्माण करना आदि शामिल हैं।

मार्च 2011 में टाटा पावर एसईडी को रक्षा मंत्रालय से 30 एयरफ़ील्ड्स के आधुनिकीकरण का 1220 करोड़ रुपयों का कॉन्ट्रैक्ट मिला था और टाटा पावर एसईडी ने उसे सफलतापूर्वक पूरा किया। वर्तमान कॉन्ट्रैक्ट पहले के आर्डर का ही अगला हिस्सा है जिसमें और 37 एयरफ़ील्ड्स का आधुनिकीकरण किया जाएगा।  इससे एयरफील्ड सिस्टम्स का एयर ट्रैफिक कंट्रोलर्स पर नियंत्रण और अधिक मजबूत होगा, हवाई सुरक्षा और संचालनात्मक क्षमता बढ़ेगी, कम रोशनी, ख़राब मौसम की स्थिति में भी संचालन सुचारु रूप से जारी रखने में सहायता होगी।

टाटा पावर में उसके रक्षा उद्यम (टाटा पावर एसईडी) को एक व्यवस्थापन योजना के जरिए टाटा एडवांस्ड सिस्टम्स लिमिटेड (टीएएसएल) को बेचने की प्रक्रिया चल रही है। टीएएसएल को उद्यम के हस्तांतरण को एनसीएलटी ने पहले ही अनुमति दी है और विनियामक और अन्य सामान्य अनुमतियों को प्राप्त करने के बाद यह प्रकिया पूरी होगी।      

No comments:

Post a comment

Pages