नीरव मोदी, विजय माल्या और मेहुल चौकसी सहित बड़े लोगों के 68 हजार करोड़ रुपए माफ कर केंद्र सरकार ने किया बड़ा घोटाला : खाचरियावास - Pinkcity News

Breaking News

Thursday, 30 April 2020

नीरव मोदी, विजय माल्या और मेहुल चौकसी सहित बड़े लोगों के 68 हजार करोड़ रुपए माफ कर केंद्र सरकार ने किया बड़ा घोटाला : खाचरियावास

Pratap Singh Khachariyawas Comment On New Motor Vehicle Act 2019 ...
जयपुर। जयपुर शहर जिला कांग्रेस के अध्यक्ष और परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा कि कोरोना संकट के समय में केंद्र की भाजपा सरकार ने रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के बड़े बकायेदारों के 68 हजार करोड़ रुपए माफ करके देश की जनता के साथ धोखा किया है। खाचरियावास ने कहा कि 68 हजार करोड़ रुपए में नीरव मोदी, विजय माल्या और मेहुल चौकसी के भी हजारों करोड़ रुपए शामिल है।
 खाचरियावास ने कहा कि कोरोना की संकट की घड़ी में पूरा देश आर्थिक मंदी के संकट से जूझ रहा है, आम आदमी मजदूर और गरीब राशन को लेकर परेशान है तब संकट की घड़ी में केंद्र की मोदी सरकार देश की हजारों करोड़ रुपए की संपत्ति लेकर विदेश भागने वाले भगोड़ा विजय माल्या, मेहुल चौकसी और नीरव मोदी जैसे लोगों को फायदा पहुंचाने में लगी है।
 खाचरियावास ने कहा कि शब्दों के मायाजाल से केंद्र सरकार के नेता देश की जनता के साथ धोखा नहीं कर सकते। यह देश का बहुत बड़ा घोटाला है, इतने बड़े-बड़े घोटाले जब सामने आते हैं तब इन घोटालों पर पर्दा डालने के लिए केंद्र सरकार के मंत्री और नेता इधर उधर की बातें करने लगते हैं। कोरोना संकट के समय में 68 हजार करोड़ का घोटाला देश की जनता के साथ बहुत बड़ा धोखा है।
खाचरियावास ने कहा कि देश की जनता इस घोटाले का केंद्र की भाजपा सरकार से हिसाब मांगेगी, यदि यही पैसा गरीब का होता तो उन गरीबों के खेत, घर, दुकान, ठेले, खोमचे जप्त कर के नीलाम कर दिए जाते हैं। यह स्पष्ट हो गया है कि केंद्र की मोदी सरकार के इशारे पर रिजर्व बैंक ने इन भगोड़ो व बड़े घोटालेबाजों के 68 हजार करोड रुपए खातों से माफ कर दिए।
खाचरियावास ने कहा कि लोकसभा में राहुल गांधी ने 50 बड़े बैंक डिफाल्टरओ के नाम वित्त मंत्री से सार्वजनिक करने के लिए कहा था, तब वित्तमंत्री ने लोकसभा में इसका जवाब नहीं दिया। आज यह घोटाला खुलकर सामने आ गया है तब भी केंद्र की वित्त मंत्री इस घोटाले पर कोई स्पष्ट जवाब नहीं दे पा रही हैं।

No comments:

Post a comment

Pages