पिंकसिटी फेस्टिवल का आगाज़ 20 जनवरी को, 100 स्टाल लगेंगे - Pinkcity News

Breaking News

Saturday, 18 January 2020

पिंकसिटी फेस्टिवल का आगाज़ 20 जनवरी को, 100 स्टाल लगेंगे

  • जेकेके में 10 दिवसीय इस फेस्टिवल का उद्घाटन कला एवं संस्कृति मंत्री बी.डी. कल्ला करेंगे
  • - एक दर्जन से अधिक अन्य प्रदेशों के आर्टिजन के लगेंगे 20 स्टाल
  • -रोजाना सांस्कृतिक प्रस्तुतियां रहेंगी आकर्षण का केंद्र, 24 को नाटक का मंचन
Image result for pinkcity festival in jkk
जयपुर, 18 जनवरी। जवाहर कला केंद्र के शिल्पग्राम में सोमवार से दस दिवसीय 'पिंकसिटी फेस्टिवल' का आयोजन होगा। इसमें राजस्थान सहित विभिन्न प्रदेशों के उत्पादों के करीब सौ स्टाल लगेंगे। साथ ही, रोजाना विभिन्न कल्चरल प्रस्तुतियां आकर्षण का केंद्र रहेंगी तथा 24 जनवरी को नाटक का भी मंचन होगा। इस फेस्टिवल का उद्घाटन सोमवार शाम साढ़े पांच बजे प्रदेश के कला एवं संस्कृति मंत्री बी.डी. कल्ला करेंगे।
जवाहर कला केंद्र की महानिदेशक किरण सोनी गुप्ता ने बताया कि यह फेस्टिवल वृहद स्तर पर आयोजित किया जा रहा है। इसमें राजस्थान के दस्तकारों के के उत्पादों को प्रमोट करने के उद्देश्य से 80 स्टाल लगाए जाएंगे। साथ ही, मेले के आकर्षण के लिए 20 स्टाल एक दर्जन से अधिक अन्य प्रदेशों के उत्पादों के लिए रखे गए हैं।
श्रीमती गुप्ता ने बताया कि इन स्टाल्स के अलावा दर्जनभर ओपन शॉप पर भी आर्टिजन अपने उत्पादों की बिक्री करेंगे। इनमें कई उत्पादों की निर्माण प्रक्रिया का भी प्रदर्शन किया जाएगा। इसके जरिए लोगों को विभिन्न उत्पादों की निर्माण प्रक्रिया की बारीकियों से अवगत कराया जाएगा।

देशभर के विभिन्न उत्पादों की होगी बिक्री-
जेकेके की महानिदेशक गुप्ता ने बताया कि इस फेस्टिवल में राजस्थान के दस्तकारों के नमदा, लाख की चूड़ियां, जैकेट मार्बल हैंडीक्राफ्ट, पेच वर्क एंब्रॉयडरी, तलवार मेकिंग और राजस्थानी आभूषण सहित दर्जनों उत्पाद शामिल होंगे। इनके अलावा बिहार के लैदर वर्क के आइटम, उत्तर प्रदेश के कारपेट, बेड शीट, बनारसी साड़ियां, चिकन वर्क के वस्त्र, कश्मीर के सूट साड़ी और शॉल और लैदर जैकेट, हिमाचल प्रदेश के ऊनी जैकेट, पश्चिम बंगाल की टेक्सटाइल एंब्रॉयडरी तो सिलीगुड़ी मैट्स, बैग्स और शीतल पट्टी, मध्य प्रदेश के प्रसिद्ध लकड़ी के खिलौने, गुजरात के विशिष्ट पहचान रखने वाले हस्तशिल्प कारपेट, उत्तराखंड के खास ऊनी कपड़े पंजाबी जूतियां और असम के बेम्बू उत्पाद के स्टाल भी लगेंगे।
स्टाल्स सुबह 11 बजे से रात्रि 9 बजे तक खुलेंगे।

रोजाना सांस्कृतिक कार्यक्रम-
फेस्टिवल के तहत प्रतिदिन सांस्कृतिक कार्यक्रम भी रखे जाएंगे। इनमें दोपहर 2:00 बजे से विभिन्न लोक एवं क्लासिकल प्रस्तुतियां दी जाएंगी, वहीं शाम 6:30 बजे विशेष कल्चरल प्रस्तुतियों का विशेष आकर्षण होगा। इसके साथ ही 24 जनवरी को शाम 4.30 बजे काजल सूरी के प्रसिद्ध नाटक "महात्मा इन मेकिंग" का मंचन भी होगा।

उद्घाटन सोमवार को-
फेस्टिवल का उद्घाटन 20 जनवरी (सोमवार) को शाम 5:30 बजे राजस्थान के कला एवं संस्कृति मंत्री बी.डी. कल्ला करेंगे। इस मौके पर कई अधिकारियों के साथ ही विभिन्न क्षेत्रों की हस्तियां मौजूद रहेंगी।

No comments:

Post a Comment

Pages