रुद्राअर्चन और रुद्राभिषेक से हो जाते हैं हमारे सभी पाप कर्म नष्ट - Pinkcity News

Breaking News

Sunday, 12 January 2020

रुद्राअर्चन और रुद्राभिषेक से हो जाते हैं हमारे सभी पाप कर्म नष्ट

  • विद्वानों ने कराया अनेक द्रव्यो से भोलेनाथ का अभिषेक
जयपुर। भगवान शिव परम दयालु और कल्याणकारी हैं। उनकी आराधना समस्त मनोरथ को पूर्ण करती है। यह बात ब्रहम भट्ट बगीची कल्याण जी का रास्ता में आयोजित श्रीमद् भागवत कथा सप्ताह ज्ञान यज्ञ के विश्राम पर रविवार को आयोजित रुद्राभिषेक के आयोजन में विद्वानों ने कही। इस मौके पर जागेश्वर महादेव मंदिर में भोलेनाथ का मंत्रोचचारों के बीच रुद्राभिषेक किया गया।

श्रीकृष्ण चरण अनुरागी श्रीनिवास शर्मा ने बताया कि हमारे द्वारा किए गए पाप कर्म ही हमारे दु:खों का कारण है। उन्होंने बताया कि रुद्राअर्चन और रुद्राभिषेक से हमारे सभी पाप कर्म नष्ट हो जाते हैं और साधक में शिवत्व का उदय होता है। कहा जाता है कि एकमात्र भगवान सदाशिव रुद्र के पूजन से सभी देवताओं की पूजा स्वत: हो जाती है। उन्होंने बताया कि सभी देवताओं की आत्मा में रुद्र का वास है और सभी देवता रुद्र की आत्मा हैं। इस मौके पर भोलेनाथ का इत्र सुगंधित पुष्पों से आकर्षक शृंगार किया गया। सभी भक्तों ने भोलेनाथ की सामूहिक रूप से आरती पूजा की।

श्रीमद् भागवत कथा ज्ञान यज्ञ के तहत भागवत कथा सप्ताह, नानी बाई को मायरो, श्री श्याम जी का जागरण और रुद्राभिषेक का आयोजन किया गया। भक्तों ने इस महामहोत्सव में बड़ी संख्या में भाग लिया। इसके बाद बगीची में शाम को पोस बड़ा भंडारा प्रसादी का आयोजन हुआ जिसमें बड़ी संख्या में भक्तों ने देर रात तक प्रसादी ग्रहण की।

No comments:

Post a Comment

Pages