21वें राष्ट्रीय कला मेले का समापन : पुरस्कृत हुईं बेस्ट कलाकृतियां - Pinkcity News

Breaking News

Tuesday, 7 January 2020

21वें राष्ट्रीय कला मेले का समापन : पुरस्कृत हुईं बेस्ट कलाकृतियां

दस-दस हजार रुपए समेत 2-2 हजार रुपए की बांटी गईं प्रोत्साहन राशियां
जयपुर, 7 जनवरी। पिछले पांच दिनों से जवाहर कला केन्द्र के शिल्पग्राम में राजस्थान ललित कला अकादमी की ओर से चल रहे 21वें राष्ट्रीय कला मेले के आखिरी दिन 7 जनवरी, मंगलवार को वैलेडिक्शन  एंड अवॉर्ड सेरेमनी हुई, जिसमें स्टॉल्स पर डिसप्ले हुईं बेस्ट कलाकृतियों समेत ऑन द स्पॉट आर्ट कॉम्पीटिशन्स में  अव्वल रहे स्कूल व कॉलेज के स्टूडेंट्स को पुरस्कृत किया गया।  राजस्थान ललित कला अकादमी की ओर से दिए गए तमाम पुरस्कार समारोह के मुख्य अतिथि राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष राजीव अरोड़ा, राज.ललित कला अकादमी के प्रशासक केसी वर्मा और जेकेके महानिदेशक किरण सोनी गुप्ता ने प्रदान किए। मंगलवार को भी दिन भर शहर के कलाप्रेमियों की चहल-कदमी से कला मेले की रौनक बदस्तूर बनी रही।

इन कलाकारों की बेस्ट कलाकृतियां चुनी गईं
कला मेले में लगी स्टॉल्स पर कालिया पाटीदार, मंयक रावल, स्वप्निल टॉक,  गोपाल दास वैष्णव, नरेन्द्र कुमावत, केजी कदम, राजेन्द्र प्रसाद मीणा, रवि प्रसाद कोली, हर्षित वैष्णव, शंकर शर्मा की बेस्ट कलाकृति को 10-10 हजार रुपए  की प्रोत्साहन राशि प्रदान की गई।

इन स्टूडेंट्स को मिली 2-2 हजार रुपए की प्रोत्साहन राशि
इसी प्रकार यूनिवर्सिटी व कॉलेज के ऑन द स्पॉट आर्ट कॉम्पीटिशन्स में स्टूडेंट्स अंकेश कुमार शर्मा, जयंत शर्मा, सुभाष चन्द बैरवा, आयुष गहन, मुकेश कुमार, निधि शर्मा, मोहित कालरा, कमल कुमार मीना, प्रतीक डामोर की पेंटिंग को 2-2 हजार रुपए की प्रोत्साहन राशि प्रदान की पुरस्कृत किया गया।

स्कूली बच्चे भी हुए पुरस्कृत
मेले के दौरान हुए ऑन द स्पॉट आर्ट कॉम्पीटिशन्स में अव्वल रहे स्कूली बच्चों में हिमांशु सिंह, प्रितीका सोनी, तिलक सोनी, कुलवासनी को 500-500 रुपए की प्रोत्साहन राशि देकर पुरस्कृत किया गया।

सरकार ने खरीदी 5 लाख रुपए की बेस्ट कलाकृतियां
गौरतलब है कि कला मेले की ओपनिंग पर साहित्य, कला व संस्कृति मंत्री बीडी कल्ला की ओर से की गई 5 लाख रुपए की घोषणा के बाद मेले के आखिरी दिन मंगलवार को राजस्थान सरकार ने  युवा कलाकारों की बेस्ट कलाकृतियों  का चयन कर बेस्ट कलाकृतियां खरीदी। पांच लाख रुपए की कलाकृतियां खरीदने का मकसद युवा कलाकारों को प्रोत्साहित करना रहा।

देश भर के 400 से अधिक कलाकारों ने किए आर्ट वर्क डिसप्ले
 राज. ललित कला अकादमी के सचिव विनय शर्मा ने बताया कि 21वें राष्ट्रीय कला मेले में इस बार 110 स्टॉल्स पर  400 से अधिक देशभर के वरिष्ठ व युवा कलाकारों के तकरीबन 1500 से अधिक कबूलसूरत आर्टवर्क डिस्प्ले किए गए। इनमें विभिन्न मीडियम्स में पेंटिंग्स, स्कल्पचर्स, फोटोग्राफी, ग्राफिक्स, इंस्टॉलेशन्स आदि प्रदर्शित किए गए। कला मेले के कन्वीनर नाथूलाल वर्मा ने बताया कि शहर के कलाप्रेमियों के मनोरंजन के लिए  आइसीसीआर की तरफ से लोकनृत्यों का रंगारंग कार्यक्रम भी हुआ। साथ ही आर्ट मूवीज की खास स्क्रीनिंग भी हुई। एमिनेंट आर्टिस्ट्स के उम्दा रंग  संयोजन के आर्टवर्क समेत लाइव डेमोन्स्ट्रेशन्स का खास आकर्षण रहा।  आखिर में अकादमी सचिव विनय शर्मा ने सभी आगन्तुकों का आभार जताया।

No comments:

Post a comment

Pages