गौ-संरक्षण और गौ संवर्धन की दिशा में काम करने वाली संस्थाओं को सरकार की तरफ से पूरा सहयोग मिलेगा : केंद्रीय मंत्री अर्जुनराम मेघवाल - Pinkcity News

Breaking News

Sunday, 5 January 2020

गौ-संरक्षण और गौ संवर्धन की दिशा में काम करने वाली संस्थाओं को सरकार की तरफ से पूरा सहयोग मिलेगा : केंद्रीय मंत्री अर्जुनराम मेघवाल

गौ संवर्धन और नस्ल सुधार के लिए रिसर्च और समेकित प्रयास समय की आवश्यकता है : मंत्री बीडी कल्ला
  • गौ-संरक्षण एवं संवर्धन के लिए जयपुर में राष्ट्रीय गौ समृद्धि सम्मेलन आयोजित
जयपुर, 5 जनवरी। राजस्थान गौ सेवा परिषद् की ओर से रविवार को जयपुर के नीलम होटल में राष्ट्रीय गौ समृद्धि सम्मेलन आयोजित किया गया। सम्मेलन में केंद्रीय संसदीय कार्य मंत्री अर्जुनराम मेघवाल, राज्य के जलदाय एवं ऊर्जा मंत्री डॉ. बीडी कल्ला, गौपालन मंत्री प्रमोद जैन भाया, उच्च शिक्षा राज्य मंत्री भंवर सिंह भाटी, पूर्व मंत्री डॉ. चंद्रभान, संवित सोमगिरि महाराज सहित प्रदेश एवं अन्य राज्यों के प्रतिनिधियों ने भागीदारी की।

केंद्रीय मंत्री अर्जुनराम मेघवाल ने राजस्थान गौ सेवा परिषद् की पहल की तारीफ करते हुए कहा कि गौ-संरक्षण और गौ संवर्धन की दिशा में काम करने वाली ऎसी संस्थाओं को सरकार की तरफ से पूरा सहयोग दिया जाएगा।

जलदाय एवं ऊर्जा मंत्री डॉ. बीडी कल्ला ने बताया कि गाय पूरे विश्व की माता है। गौ संवर्धन और नस्ल सुधार के लिए रिसर्च और समेकित प्रयास समय की आवश्यकता है। डॉ. कल्ला ने गौ आधारित कृषि, गौ आधारित ऊर्जा तथा गौ और कृषि आधारित ग्रामोद्योग के बारे में अपने विचार साझा करते हुए कहा कि गोचर भूमि और गौ वंश को बचाने के लिए सभी स्तरों पर प्रयास जरूरी है। गौ आधारित कृषि और जैविक खेती हर लिहाज से फायदेमंद है। इससे भूमि की उर्वरा शक्ति तो बढ़ती ही है, जैविक कृषि के उत्पाद भी मूल्य देने वाले है। इनसे इंक्रीजिंग रिर्टन प्राप्त किया जा सकता है। इस क्षेत्र में मार्केटिंग पर फोकस करते हुए उसे सही तरीके से अंजाम देने की जरूरत है। गौ आधारित ऊर्जा पैदा करने के लिए वैज्ञानिक नये सिरे से रिसर्च करें, गोबर गैस तैयार करने की तकनीक में परिर्वतन के भी रास्ते खोजे जाएं। उन्होंने गौ वंश की सुरक्षा के लिए प्लास्टिक मुक्त देश बनाने का संकल्प लेने की अपील की और थारपारकर, राठी और गिर जैसी देशी नस्लों के संवर्धन के लिए भी सघन और सतत प्रयासों की आवश्यकता को रेखांकित किया।

गौपालन मंत्री प्रमोद जैन भाया ने कहा कि गाय का हमारे जीवन में बेहद बड़ा स्थान है।  सरकार हर क़दम पर ऎसी संस्थाओं के साथ है, जो गौ-संवर्धन और गौ संरक्षण की दिशा में काम कर रही है। उच्च शिक्षा राज्य मंत्री श्री भंवरसिंह भाटी ने गाय और गौ-उत्पादों की विशेषताओं का उल्लेख करते हुए परिषद् के प्रयासों की सराहना की और गौ संरक्षण और संवर्धन के लिए हरसम्भव मदद का आश्वासन दिया। राजस्थान गौ सेवा परिषद् के अध्यक्ष श्री हेम शर्मा ने उद्देश्यों के बारे में जानकारी साझा की। कार्यक्रम में कुलपति राजुवास प्रो. विष्णु शर्मा, संवित सोमगिरि, सुनील मानसिंघा, अनिल अग्रवाल सहित अन्य लोगों ने भी गौसंरक्षण और गौसंवर्धन पर अपने विचार व्यक्त किए।

No comments:

Post a comment

Pages