जेकेके में 9 दिवसीय चिल्ड्रन‘स फेस्टिवल का आगाज : बच्चों ने चित्र बना भरे कल्पना के रंग - Pinkcity News

Breaking News

Sunday, 5 January 2020

जेकेके में 9 दिवसीय चिल्ड्रन‘स फेस्टिवल का आगाज : बच्चों ने चित्र बना भरे कल्पना के रंग

  • 13 जनवरी चलेगा बालोत्सव, सोमवार को होगा चिल्ड्रन थियेटर परफोर्मेंस, स्टोरी टेलिंग वर्कशॉप्स एवं हार्टफुलनेस मेडिटेशन सेशन का आयोजन
जयपुर, 5 जनवरी। जवाहर कला केंद्र (जेकेके) में रविवार को 9 दिवसीय ‘चिल्ड्रन‘स फेस्टिवल‘ की शुरूआत हुई। फेस्टिवल के प्रथम दिन मध्यवर्ती में आयोजित पेंटिंग वर्कशाप में 5 से 8 वर्ष और 9 वर्ष से 16 वर्ष की आयु वर्ग के लगभग 60 बच्चों ने भाग लिया। इस वर्कशॉप का संचालन मनोज जोशी कर रहे हैं। इस अवसर पर बच्चों ने घोड़े का चित्र बनाना सीखा और उनमें अपनी कल्पना से रंग भरे। कुछ बच्चों ने ‘इंडिया ऑफ माई ड्रीम‘ थीम पर आधारित चित्र भी बनाए। इस तीन दिवसीय  कार्यशाला के दौरान, बच्चों को पेड़, पक्षी, पशु, फूल, पत्ते, आदि बनाना सिखाया जाएगा।

इस अवसर पर जेकेके की महानिदेशक किरण सोनी गुप्ता ने कहा कि इस वर्कशॉप के दौरान वरिष्ठ चित्रकार डॉ. एन.एल. वर्मा और मनोज जोशी से मिलने वाली गाइडेंस बच्चों के लिए महत्वपूर्ण साबित होगी। महानिदेशक ने बताया कि बच्चों में क्रिएटिव थिंकिंग को प्रोत्साहित करना इस वर्कशॉप का उद्देश्य है। बच्चों में क्रिएटिविटी भरपूर होती है, लेकिन उसे चैनलाइज करना आवश्यक है। उन्होंने उपस्थित अभिभावकों को सलाह दी कि एकेडमिक तनाव से मुक्ति के लिए वे अपने बच्चों को कला के साथ जोड़ें।

जेकेके के अतिरिक्त महानिदेशक (तकनीकी) फुरकान खान ने भी प्रतिभागी बच्चों का मार्गदर्शन किया।
इस अवसर पर वरिष्ठ कलाकार एन.एल. वर्मा ने कहा कि वृत्त, त्रिभुज जैसी मूल आकृतियों का उपयोग करके भी बच्चे आसानी से कलात्मक और जटिल चित्र सरलता से बना सकते हैं।कलाकार मनोज जोशी ने कहा कि कार्यशाला में बच्चों को प्राकृतिक वस्तुओं को कागज पर बनाने के तरीके के बारे में बताया जाएगा।


सोमवार को आयोजित होने वाले कार्यक्रम
  • चिल्ड्रन थियेटर परफोर्मेंस
समारोह का अगला आकर्षण 6 जनवरी और 9 जनवरी का आयोजित चिल्ड्रन थियेटर परफोर्मेंस साबित होगी। इसमें सोमवार, 6 जनवरी को प्रातः 9.30 बजे रंगायान में ‘थर्स्टी क्रो रिटर्न्स‘ का मंचन होगा। मनीष जोशी लिखित 90 मिनट की इस हिन्दी नाट्य प्रस्तुति का निर्देशन एवं संपादन सुवोजीत बंद्योपाध्याय ने किया है।
  • हार्टफुलनेस मेडिटेशन सेशन
बालोत्सव के दौरान 6 से 11 जनवरी तक प्रातः 9 से 9.30 बजे रंगायन में 5 वर्ष से 14 वर्ष के आयु वर्ग के बच्चों के लिए हार्टफुलनेस मेडिटेशन सेशन का आयोजन भी किया जाएगा।

  • स्टोरी टेलिंग वर्कशॉप्स
बच्चों की कल्पनाशक्ति के विकास को ध्यान में रखते हुए जेकेके की ओर से स्टोरी टेलिंग वर्कशॉप्स का आयोजन 6 जनवरी से 11 जनवरी तक किया जाएगा। कृष्णायन सभागार में आयोजित इन वर्कशॉप्स का संचालन 6 से 7 जनवरी को डॉ. अनिता भटनागर जैन (सेवानिवृत्त आईएएस) 8 से 9 जनवरी को मालविका जोशी और 10 से 11 जनवरी को इंदिरा मुखर्जी करेंगी। वर्कशॉप के तहत 5 से 8 वर्ष तक की आयु के बच्चों के लिए प्रातः 9 से 11 बजे और 9 से 14 वर्ष की आयु के बच्चों के लिए प्रातः 11.30 से 1 बजे इन वर्कशॉप्स का आयोजन किया जाएगा। इसके अतिरिक्त मदर्स, टीचर्स एवं अन्य इच्छुक व्यक्तियों के लिए ये वर्कशॉप्स दोपहर 3 बजे से 4.30 बजे भी आयोजित की जाएगी।

उल्लेखनीय है कि बच्चों की कलात्मक अभिरुचि और पसंद को ध्यान में रखते हुए जेकेके में फेस्टिवल के दौरान न केवल पेंटिंग, स्टोरी टेलिंग एवं पपेट मेकिंग वर्कशॉप्स का आयोजन किया जाएगा, बल्कि  थियेटर, डांस एवं इन्स्ट्रूमेंटल प्रस्तुतियां भी दी जाएंगी। इन सभी के अतिरिक्त फेस्टिवल में रोमांच एवं मनोरंजन से भरपूर बाल फिल्मों की स्क्रीनिंग भी होगी। इन सभी कार्यक्रमों में बच्चों का प्रवेश निशुल्क रहेगा और यहां तक कि जेकेके की ओर से वर्कशॉप्स में आवश्यक आर्ट सामग्री भी उपलब्ध करवाई जा रही है।

No comments:

Post a comment

Pages