31वीं आठ दिवसीय अभा महेंद्र भट्ट स्मृति संगीत एवं नृत्य प्रतियोगिता 16 से 23 जनवरी तक, बॉलीवुड सिंगर रवीन्द्र उपाध्याय ने किया पोस्टर का विमोचन - Pinkcity News

Breaking News

Sunday, 5 January 2020

31वीं आठ दिवसीय अभा महेंद्र भट्ट स्मृति संगीत एवं नृत्य प्रतियोगिता 16 से 23 जनवरी तक, बॉलीवुड सिंगर रवीन्द्र उपाध्याय ने किया पोस्टर का विमोचन

  • -छह स्वर्ण पदकों समेत कई श्रेणियों में दिए जाएंगे 250 पुरस्कार
  • -लोक, सुगम और शास्त्रीय गायन, वादन व नृत्य कैटेगरी में होंगी प्रतियोगिताएं
जयपुर, 5 जनवरी।  दर्शक संस्था, जयपुर की प्रतिष्ठित 31वीं आठ दिवसीय महेंद्र भट्ट स्मृति अभा संगीत एवं नृत्य प्रतियोगिता के पोस्टर का विमोचन रविवार को यहां गोविंद मार्ग, मालवीय नगर स्थित दर्शक कॉलेज ऑफ म्यूजिक एण्ड आर्ट्स ऑडिटोरियम में किया। इस मौके पर सिंगर उपाध्याय ने कहा कि मेरे संगीत का सफर भी इसी प्रतियोगिता के 6ठे  संस्करण से हुआ था। इसमें मुझे फर्स्ट प्राइज मिला था। उन्होंने कहा कि इस प्रतियोगिता में प्रतिभागियों के बीच सुरों का कड़ा मुकाबला होता है। इसी 16 जनवरी से 23 जनवरी तक कला का उत्सव होने वाला है, जिसमें संगीत के विशेषज्ञ प्रतिभागियों के टैलेंट को परखेंगे। इस मौके पर कार्यक्रम संयोजक प्रोमिला राजीव भट्ट, संगीत गुरु राजीव भट्ट, ऑनरेरी चेयरमैन धु्रव कार्की भी मौजूद रहे।

प्रतियोगिता का ग्रैंड फिनाले 23 जनवरी को होगा
प्रतियोगिता संयोजक राजीव भट्ट और प्रोमिला राजीव भट्ट ने बताया कि 16 से 23 जनवरी तक 31वीं आठ दिवसीय महेंद्र भट्ट स्मृति अभा संगीत एवं नृत्य प्रतियोगिता गोविंद मार्ग, मालवीय नगर स्थित दर्शक कॉलेज ऑफ म्यूजिक एण्ड आर्ट्स ऑडिटोरियम में होगी। इसमें देश के विभिन्न राज्यों के प्रतियोगी हिस्सा लेंगे। प्रतियोगिता का उद्घाटन दर्शक संस्था की फाउंडर मधु भट्ट, ध्रुव कार्की करेंगे। पहले दिन युवा, किशोर और बाल वर्ग में सुगम गायन रिकॉर्डेड, अनरिकॉर्डेड की प्रतियोगिताएं होंगी।  प्रतियोगिता का ग्रैंड फिनाले 23 जनवरी को शाम 6 बजे दर्शक कॉलेज के ऑडिटोरियम में होगा। इसमे सिरमौर विजेता अपनी कला का प्रदर्शन करेंगे। साथ ही विजेताओं को पुरस्कार भी दिए जाएंगे।  पिछले 30 साल से नियमित रूप से चल रही इस प्रतियोगिता में नौ श्रेणियों में होंगी। इसमें सुगम गायन रिकॉर्डेड-अन रिकॉर्डेड, सुगम वादन, शास्त्रीय गायन व बादन लोक गायन व नृत्य उपशास्त्रीय नृत्य, युगल नृत्य, लोकनृत्य एवं बॉलीवुड डांस विधाएं शामिल हैं। शहर के प्रतिष्ठित संगीत गुरु प्रतिभागियों के हुनर को परखेंगे। प्रतियोगिता में 30 वर्ष तक प्रतिभागी हिस्सा लें सकेंगे।

इन पुरस्कारों से नवाजा जाएगा
विभिन्न श्रेणियों में हर वर्ग के विजेताओं और निर्णायकों की चुनी गईं प्रतिभाओं की सम्मिलित प्रतियोगिता होंगी। इसमें  विनर को सुर नूर गायन, सुर नूर वादन, सुर नूपुर नृत्य, बाल श्रेष्ठ को स्वर्ण पदक सहित 2500 रुपए के नकद पुरस्कार से नवाजा जाएगा। गत वर्षों के स्वर्ण पदक विजेताओं में से विजेता को सुर साधक से सम्मानित किया जाएगा। समारोह में एक सर्वश्रेष्ठ प्रतियोगी को दर्शक कॉलेज के चेयरमैन रहे स्व. नील बहादुर सिंह कार्की स्मृति में 25 हजार रुपए का विशेष पुरस्कार उनके सुपुत्र ध्रुव कार्की की तरफ से प्रदान किया जाएगा।                                                                           

No comments:

Post a comment

Pages