पावर डिस्ट्रीब्युशन जोब रोल्स: भारतीय स्किल डवलपमैंट युनिवर्सिटी मे सात दिवसीय ट्रेनिंग आफ असेसर्स कार्यक्रम शुरू - Pinkcity News

Breaking News

Wednesday, 18 December 2019

पावर डिस्ट्रीब्युशन जोब रोल्स: भारतीय स्किल डवलपमैंट युनिवर्सिटी मे सात दिवसीय ट्रेनिंग आफ असेसर्स कार्यक्रम शुरू

जयपुर 18 दिसंबर 2019 :  भारतीय स्किल डवलपमैंट युनिवर्सिटी में 16 से 22 दिसम्बर तक सात दिवसीय पूर्णतः आवासिय ट्रेनिंग आफ असेसर्स कार्यक्रम पावर सेक्टर स्किल कान्सिल के तत्वावधान में आयोजित किया जा रहा है। कार्यक्रम की थीम है ‘‘पावर डिस्ट्रीब्युशन जोब रोल्स”। कार्यक्रम में देश के विभिन्न भागों से 45 से ज्यादा इंजिनियर्स भाग ले रहें हैं। कार्यक्रम में मुख्यतया वर्तमान में पावर डिस्ट्रीब्युशन प्रणाली और पावर सब स्टेशन के उपकरणों के संचाालन और अनुरक्षण की पूरी जानकारी के साथ-साथ उनको हेण्ड्स आन प्रेक्टिकल नालेज दिया जाएगा। भारतीय स्किल डवलपमैंट युनिवर्सिटी के प्रेसिडेंट डा. अचिन्तया चैधरी ने मुख्य थीम पर प्रकाश डालते हुए सभी प्रतिभागियों को प्रशिक्षण कार्यक्रम में शामिल होने के लिए शुभकामनाएं दी तथा उन्हें इसका पूर्ण लाभ लेने के लिए प्रोत्साहित किया। युनिवर्सिटी के स्कूल आफ इलेक्ट्रिकल स्किल्स के पिंरसिपल व कार्यक्रम के मुख्य डोमेन टेनर प्रों. (डा.) एस. के. झाझरिया ने बताया कि ट्रेनिंग के दौरान संबंधित विषयों पर कुल 40 से अधिक थ्योरी और प्रेक्टिकल के सत्र आयोजित किये जाएंगे। इसके अलावा विभिन्न औद्योगिक विशेषग्ज्ञों को आमंत्रित करके गेस्ट लेक्चर भी करवाए जाएंगे जिनमें  जयपुर विद्युत वितरण निगम लिमिटेड तथा जीनस पावर इन्फ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड आदि के विशेषज्ञ भी शामिल रहेंगे। 
गौरतलब है कि सेक्टर स्किल्स काउन्सिल इसके अलावा एक ट्रेनिंग आफ टेनर्स कार्यक्रम भी आयोजित करती है जिसको इस कार्यक्रम के प्रशिक्षक मूल्यांकन करने के योग्य होंगे।
प्रो. झाझरिया के अनुसार ट्रेनिंग में पांवर सेक्टर सिनेरियो, इलेक्ट्रिसिटी रेगुलेशन, केन्द्रीय विद्युत अधिकरण, इलेक्ट्रिसिटी एक्ट 2013, इरेक्सन एण्ड मैन्टेनैंस आफ पावर डिस्ट्रीब्युशन सब स्टेशन, इंसटालेसन, आपरेशन प्रोसिजर आफ एनर्जी मीटर्स, बस-बार कनेक्शन, डोमेस्टिक वायरिंग के प्रकार व उनकी रिपेयरिंग, उनके फाल्ट ढूंढना आदि के बारे में विस्तार से जानकारी दी जायेगी। इसके अलावा एन.एस.डी.सी क्वालिफिकेशन पेक्स, नेश्नल आक्युपेशनल स्टेण्डर्स, आदि से संबंधित प्रशिक्षण कार्यक्रमों के बारे में भी विस्तार से होगी। कार्यक्रम में स्कूल आफ इलेक्ट्रिकल स्किल्स कें अलावा युनिवर्सिटी के कई अन्य प्रबुद्ध प्राध्यापको डा. रीतु टाक, डा, सुजिल, डा. पंचम कुमार, डा. सत्येन्द्र सिंह, डा. अनिल अग्रवाल, डा. मृदू गोयल, मिस फालती टेवटिया आदि ने स्किल विशेषज्ञों के तौर पर विभिन्न विषयों जैसे एटीट्यूड, कम्यूनिकेशन स्क्ल्सि, प्रजेन्टेशन स्किल्स, कस्टमर रिलेश्नशिप, प्रोफेश्नल डवलपमैंट एण्ड इट्स नीड, एन्टरप्रेन्योरशिप एण्ड कस्टमर रिलेश्नशिप स्किल्स पर अपने विचार रखेंगे तथा प्रतिभागियों का ज्ञान वर्द्धन करेंगे। रजिस्ट्रार डा. सोमनाथ मिश्रा ने युनिवर्सिटी के उद्देष्यों, मिशन व विभिन्न क्रियाकलापों व गतिविधियों, औद्योगिक समूहों के साथ युनिवर्सिटी के विभिन्न एमओयूज के बारे में विस्तार से बताते हुए सभी इंजिनियर्स को इस तरह के कार्यक्रम लगातार अटेण्ड करने का सुझाव दिया जिससे अपनी स्किल्स को समय की मांग के अुनसार अपडेट रख सकें। स्कूल आफ इलेक्ट्रिकल स्किल्स पूर्व में 11 दिवसीय ट्रैनिंग आफ टैनर्स कार्यक्रम भी आयोजित कर चुका है।

No comments:

Post a Comment

Pages