बचत खाते की असली ताकत को पहचानिए : प्रवीण कुट्टी, हैड रिटेल एंड एसएमई बैंकिंग (डीसीबी बैंक) - Pinkcity News

Breaking News

Tuesday, 17 December 2019

बचत खाते की असली ताकत को पहचानिए : प्रवीण कुट्टी, हैड रिटेल एंड एसएमई बैंकिंग (डीसीबी बैंक)

Image result for saving account"जयपुर।  बैंक या पोस्ट आॅफिस की ओर से दिया जाने वाला सबसे मूल और जरूरी वित्तीय उपाय बचत खाता होता है। बचत खाता बाजार में उपलब्ध अन्य वित्तीय विकल्पों की तरह बहुत ज्यादा विशेष नहीं होता, लेकिन यह बैंकिंग व्यवस्था से वंचित लोगों को बैंकिंग व्यवस्था से जोड़ने यानी वित्तीय समावेशन का पहला चरण है।
एक बचत खाते में छह बहुत उपयोगी बातेें होती हैं। 

इन बातो को हमारे साथ साझा किया है डीसीबी बैंक के रिटेल और एसएमई बैंकिंग हैड प्रवीण कुट्टी ने। उन्होंने  बताया कि-

1-यह किसी भी निवेश में सबसे सुरक्षित और कम जोखिम वाला उपाय है।
2- यह लोगों में बचत की आदत पैदा करता है, विशेषकर युवाओं में
3- यह नुकसान या चोरी से आपके पैसे को बचाता है।
4- इसके जरिए ब्याज मिलता है, हालांकि ब्याज की दर अलग-अलग बैंकों में अलग हो सकती है।
5- आप कहीं से भी कभी  भी अपना एकाउंट चला सकते हैं। फिर चाहे वह खुद जा कर या इलेक्ट्रेनिक तरीक से पैसा जमा कराना हो या ट्रांसफर करना हो या निकालना हो।
6- बचत खाते से आपका एक कोष तैयार होता है, जो जीवन के विभिन्न स्तरों पर आपको अपने लक्ष्य पूरे करने में मदद करता है।

इसीलिए एक बचत खाता आपकी मेहनत से कमाई हुई आय को मैनेज करने का सबसे स्मार्ट और दक्षतापूर्ण तरीका है। इसकी लिक्विडीटी बहुत ज्यादा होती है, क्योंकि इसके जरिए खाताधारक कभी भी अपना पैसा अपनी जरूरत या किसी निवेश जैसे सावधि जमा, बाॅंण्ड, शेयर्स या म्यूचुअल फंड के लिए निकाल सकता है या ट्रांसफर कर सकता है। बचत खाते को बहुत कम बैलेेंस के साथ चलाया जा सकता हैै। यह बहुत आसानी से बंद किया जा सकता है और बैलेंस को नकद के रूप में निकाला जा सकता है या किसी अन्य खाते या निवेश विकल्प में ट्रांसफर किया जा सकता है।
किसी भी बचत खाते का शायद सबसे अहम फायदा यह है कि आपका पैसा जो यूं घर पर बेकार पडा रहता, उस पर 3.25 प्रतिशत प्रतिवर्ष से लेकर 7 प्रतिशत प्रतिवर्ष तक का ब्याज मिल जाता है। वरिष्ठ नागरिकों को थोड़ा ज्यादा ब्याज मिलता है। यदि आप थोड़ा योजनाबद्ध ढंग से काम करें, तो थोड़े समय बाद इतना पैसा जोड़ सकते हैं जो आपको यात्रा, बच्चों की शिक्षा याा शादी, घर की मरम्मत, स्वास्थ्य और अन्य उपयोगी काम में मदद कर सकता है।
ज्यादातर बैंक अपने बचत बैंक खाताधारकों को बहुत कम वार्षिक दर पर लाॅकर की सुविधा देते है। ये लाॅकर्स कीमती सामान जैसे ज्वैलरी या दस्तावेज सुरक्षित रखने के काम आते हैं और बैंक के कामकाज के समय इन्हें कभी भी काम में लिया जा सकता हैै।
प्रतिस्पर्धा बढ़ने के कारण बैंक अब काफी नवाचार भी कर रहे हैं। उदाहरण के लिए कई बैंक कैश बैक की सुविधा भी देते है। इसमे यदि आप खाते का स्मार्ट तरीके से इस्तेमाल करते हैं तो हर पाॅइंट आॅफ सेल ट्रांजेक्शन या डेबिट कार्ड इस्तेमाल करने पर कैशबैक प्राप्त किया जा सकत है।
कई आधुनिक बैंकों ने बचत को प्रोत्साहन देेन के लिए अच्छा औसत बैलेंस रखने पर ज्यादा कैशबैक लाभ देने का काम भी किया है। कुछ बैंक और आगे बढ गए हैं और फिक्सड डिपोजिट में रखी राशि और ग्राहक की उम्र के हिसाब से जीवन बीमा का लाभ भी देते हैं।
कई बेैंक बचत खाता धारकों को अंतरराष्ट्रीय डेबिट कार्ड देते है,  जो उन्हें ओवरसीज ट्रांजेक्शन करने की सुविधा देते हैं। इन डेबिट कार्ड के साथ भोजन और खानेपीने की सुविधा, मनोरंजन और अन्य आकर्षक डील्स मिलती है और इससे बचत खाते की अहमियत  पता चलती है।
पिछले एक दशक में तकनीक और डिजिटल बैंकिंग ने बैंकिंग सेक्टर को भी बदल कर रख दिया है। यह बदलाव इस हद तक है कि ज्यादा बैंकिंग सेवाएं और समाधान आज उंगली के एक इशारे पर उपलब्ध है। इसके लिए खाता धारकों को बैंक जाने की जरूत भी नहीं है। मोाबइल एप से लेकर 24 घंटे मिलने वाली कस्टमर केयर सर्विस जैसी सुविधाओं से बैंकिंग सेवाएं एक माउस की क्लिक पर उपलब्ध है। युवा भारतीय विशेषकर मिलेनियल्स, बहुत जल्द तकनीक को अपना रहे हंै और स्मार्ट वित्तीय विकल्प अपना रहे हैं।
जैसा सब जानते हैं कि भारत सरकार वित्तीय समावेशन पर लगातार जोर दे रही है। इसके लिए जन धन योजना लागू क गई है। बचत खाता जीवन भर बचत की आदत को बनाए रखने और आर्थिक स्वतंतत्रा के लिए पहला अहम कदम है।

No comments:

Post a Comment

Pages