चिकित्सा व्यवस्थाओं की माइक्रोमॉनिटरिंग करते हुए अपने-अपने क्षेत्रों में सघन दौरे करें : रघु शर्मा - Pinkcity News

Breaking News

Sunday, 8 December 2019

चिकित्सा व्यवस्थाओं की माइक्रोमॉनिटरिंग करते हुए अपने-अपने क्षेत्रों में सघन दौरे करें : रघु शर्मा

जयपुर, 8 दिसंबर। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने प्रदेश के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों और संयुक्त निदेशकों को अपने-अपने क्षेत्रों के ज्यादा से ज्यादा दौरे करते हुए सभी चिकित्सा व्यवस्थाओं की माइक्रोमॉनिटरिंग करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि चिकित्सा केंद्रों पर मुख्यमंत्री निशुल्क दवा योजना के तहत निर्धारित सभी दवाओं की उपलब्धता सुनिश्चित होनी चाहिए। 

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री ने राज्य स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण संस्थान (सीफू) के आयोजित अहम बैठक में सभी अधिकारियों से प्रदेश भर में चल रही योजनाओं की जिलेवार समीक्षा की। इस दौरान मुख्यमंत्री निशुल्क दवा योजना, मुख्यंमत्री निशुल्क जांच योजना, जनता क्लिनिक सहित कई महत्वपूर्ण योजनाओं पर विस्तार से चर्चा की गई। उन्होंने कहा कि जहां भी चिकित्सक और चिकित्साकर्मियों की कमी है उन्हें निरंतर भरा जा रहा है।
डॉ. शर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री का सपना है कि प्रदेश का हर नागरिक स्वस्थ रहे और किसी भी बीमारी की चपेट मंे ना आए। इसके लिए सरकार का पूरा फोकस स्वास्थ्य व्यवस्थाओं को पुख्ता और आमजन के लिए सहज बनाने पर है। उन्होंने अधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि मौसमी बीमारियां हमारे लिए सबसे बड़ी चुनौती है इसलिए विशेष ध्यान बीमारियों की रोकथाम और नियंत्रण पर रखते हुए आमजन को बेहतर चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराएं।

अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री रोहित कुमार सिंह ने कहा कि प्रदेश की चिकित्सा सुविधाओं और व्यवस्थाओं में हर दिन सकारात्मक बदलाव देखने को मिल रहा है। विभाग कई योजनाओं में देश में सिरमौर बना हुआ है लेकिन इसमें और भी सुधार होगा तो हम ‘निरोगी राजस्थान‘ की परिकल्पना को आसानी से साकार कर पाएंगे।

इस दौरान सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, उप स्वस्थ्य केंद्रों के आधारभूत ढांचे (इन्फ्रास्टक्चर) को और अधिक बेहतर बनाने, चिकित्सा केंद्रों पर अत्याधुनिक मशीनों को लगाने, अनुपयोगी उपकरणों को उचित स्थानों पर स्थापित करने, एंबूलेंसों के उचित रख रखाव, ट्रोमा सेंटर्स को अधिक उपयोगी बनाने, दवा संग्रहण केंद्रों पर अधिक से अधिक दवाएं उपलब्ध कराने, सभी स्वास्थ्य केंद्रों पर पर्याप्त स्टाफ लगाने जैसी कई विषयों पर विस्तार से चर्चा की गई। अधिकारियों ने भी आश्वस्त करते हुए कहा कि प्रदेश को निरोगी बनाने में उनकी तरफ से कोई कमी नहीं रहने दी जाएगी।

चिकित्सा मंत्री ने इस दौरान मलेरिया प्रभावित क्षेत्रों के लिए मच्छरदानी भी वितरीत की। उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश में 22 लाख मच्छरदानी बांटी जाएंगी। उन्होंने कहा कि अभी जहां ज्यादा जरूरत है उन क्षेत्रों में ये मच्छरदानियां बांटी जा रही हैं। 

इस अवसर पर एनएचएम के निदेशक श्री नरेश ठकराल, आएमएससीएल के प्रबंध निदेशक श्री सरुेश गुप्ता,  स्टेट हैल्थ एशोरेंस एजेंसी की मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्रीमती शुचि त्यागी, निदेशक जन स्वास्थ्य, डॉ. केके शर्मा, निदेशक आरसीएच श्री आरएस छीपी, अतिरिक्त निदेशक डॉ.रविप्रकाश शर्मा सहित वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित रहे।

No comments:

Post a comment

Pages