एटीएस की सूचना पर एसओजी ने रैकेट का किया पर्दाफाश, चार गिरफ्तार - Pinkcity News

Breaking News

Saturday, 21 December 2019

एटीएस की सूचना पर एसओजी ने रैकेट का किया पर्दाफाश, चार गिरफ्तार

जयपुर 21 दिसम्बर। एटीएस की सूचना पर एसओजी ने अजमेर जिले में कार्रवाई कर ड्रग रैकेट का पर्दाफाश किया है। चार तस्करों को गिरफ्तार किया जाकर 2 किलो एम.डी.ए. ड्रग्स बरामद की गई है।
     एटीएस एवं एसओजी के एडीजी अनिल पालीवाल ने बताया कि एटीएस ने मुखबिर सूचना को विकसित करते हुये शुक्रवार को छापा मार कर गौरू खान निवासी लोहाखान अजमेर एवं सलमान खान निवासी मुम्बई को 2 किलोग्राम एम.डी.ए. ड्रग के साथ गिरफ्तार किया। पूछताछ में सलमान खान का अन्य साथियों के साथ माल सप्लाई करने हेतु आया जानने पर दो अन्य साथी मुहम्मद गौस एवं श्रीहरि को भी गिरफ्तार किया गया है।
पालीवाल ने बताया कि कि काफी दिनों से शिकायतें मिल रही थी कि स्कुल-कॉलेजों के छात्रों में ड्रग्स की आदत लगाने वाले माफिया राजस्थान में सक्रिय है, जिन्होंने राजस्थान के कई शहरों को चपेट में ले रखा है। एटीएस की जयपुर ईकाई को मुखबिर की सूचना से पता चला कि इसी तरह की गैंग अजमेर में काफी दिनों से अवैध ड्रग सप्लाई में लगी हुई है।
    
क्या है एम.डी.ए. ड्रग.....
यह एक खतरनाक मादक पदार्थ है जो सिंथेटिक रूप से बनाया जाता है, एम.डी.ए. का पूरा नाम मेथिलनेडायोक्सामफेरेमाईन है। यह दानेदार पाउडर के रूप में मिलता है जिसकी डोज लेने के बाद आदमी इसका आदी हो जाता है। अन्तर्राष्ट्रीय मार्केट में भारी कीमत होने के कारण लत के शिकार लोग अन्य अपराधों में लिप्त हो जाते है। अजमेर, जयपुर सहित कई शहरों में स्कुल-कॉलेजों के छात्रों को नशे की लत वाले लोगों को एवं नये लोगों को आदत लगाकर शिकार बनाकर रैकेट अपना कारोबार चलाता है।

मुम्बई से संचालित हो रहा था रैकेट....
यह रैकेट लाखों लोगों को इस ड्रग की आदत का शिकार बना चुका है, मुम्बई में कई लोग इस अवैध तस्करी से जुड़े हुये थे, उसी माध्यम से अजमेर, जयपुर जैसे शहरों में अपना मार्केट बना लिया।

कोडवर्ड में करते है बात......
एम.डी.ए ड्रग को नशे के शिकार लोग कोडवर्ड में ‘मम्मी डैडी’  के नाम से पुकारते है।

एटीएस टीम के एएसपी हरफूल सिंह के नेतृत्व में सीआई पुखराज सारण व हनुमान सिंह, हैड कानि. हनुमान सिंह, कानि. राजेन्द्र, जगदीश व सतबीर तथा सीआई रविन्द्र भूरिया व राहुल जोशी, हेड कांस्टेबल कारयालाल, संतोष, कांस्टेबल देवीसिंह, अशोक राठी, ममता शर्मा, हैड कानि. चालक बहादुर सिंह, कानि. चालक सुरेन्द्र ने कार्यवाही को अंजाम दिया।

No comments:

Post a comment

Pages