अशोक गहलोत को मुस्लिम तबके ही चिंता तो पाकिस्तान के किसी प्रांत मे जाकर बने सीएम : हनुमान बेनीवाल - Pinkcity News

Breaking News

Monday, 23 December 2019

अशोक गहलोत को मुस्लिम तबके ही चिंता तो पाकिस्तान के किसी प्रांत मे जाकर बने सीएम : हनुमान बेनीवाल

जयपुर।  हनुमान बेनीवाल ने कहा कि अशोक गहलोत को मुस्लिम तबके ही चिंता तो पाकिस्तान के किसी प्रांत मे जाकर सीएम बने।  देश की आज़ादी मे हिंदूओ  के साथ मुस्लिमो का भी बहुत बड़ा योगदान था और देश का जब नेहरू की ग़लत नीतियो से विभाजन हुआ तब लाखो मुस्लिमो  ने भारत मे रहना पसंद किया और आज भी शिक्षित और समझदार मुस्लिम वर्ग इस बात को जनता है की भारत मे कोई भी व्यक्ति चाहे वो किसी भी धर्म या मज़हब का हो वो हमेशा सुरक्षित रहेगा,उन्होने कहा अशोक गहलोत जिस राज्य के चुने हुए सीएम है उस राज्य की राजधानी मे संविधान बचाने के नाम पर लेकर जो मार्च निकाल रहे है वो निंदनीय है क्योंकि अप्रत्यक्ष रूप से वो देश विरोधी ताकतो को मजबूत कर रहे है मगर हम ऐसा होने नही देंगे | बेनीवाल ने यह बात सोमवार को अपने निवास पर जयपुर में पत्रकारों से रूबरू होकर कही।  
उन्होंने केंद्र सरकार द्वारा लागू किया गया सीएए एक्ट को बेहतरीन कदम बताते हुए इस बिल को पूरे देश की राज्य सरकारो से लागू करने की अपील की | उन्होने कॉंग्रेस पर आरोप लगाते हुए कहा की कॉंग्रेस पार्टी ने हमेशा देश को धर्म के आधार पर विभाजित करने का प्रयास किया और धारा 370 हटने के बाद ,नागरिकता सन्सोधन विधेयक आने के बाद जनसख्या नियन्त्रण को लेकर आने वाले बिल की घबराहट से कॉंग्रेस सड़को पर आई है क्योंकि पूरे देश मे कॉंग्रेस का अस्तित्व ख़तरे मे है। |

 देश की आज़ादी के दशको बाद राष्ट्रीय एकता और भावना की लहर दौड़ी -
सांसद ने प्रधानमंत्री मोदी की तारीफ करते हुए कहा की देश की आज़ादी के दशको बाद मोदी के  कार्यकाल मे देश मे राष्ट्रीय एकता की भावना  मजबूत हुई और कई महत्पूर्ण बिल इस देश मे लाए गये जिससे देश मजबूत हुआ है  |

रालोपा प्रदेश की ज़रूरतो को पूरा करने की लड़ाई लड़ेगी
 सांसद हनुमान बेनीवाल ने कहा कि  रालोपा पार्टी टोल मुक्त प्रदेश, किसानो की कर्ज़ माफी, फसलो का वाजिब दाम , शिक्षा मे सुधार सहित त्माम मे जनहित के मुद्दो को लेकर जनता की आवाज़ बनेगी | सांसद ने कहा गठबंधन को लेकर सारे  रास्ते खुले हुए है और रालोपा पूरे प्रदेश मे पचायती राज का चुनाव लड़ेगी ,उन्होने कहा वो मोदी के नेतृत्व को स्वीकार करके रालोपा ने केंद्र मे गठबन्धन किया था और उप चुनाव मे भी भाजपा के साथ गठबंधन  कायम रहा मगर 2023 मे प्रदेश के  चुनाव मे भाजपा के वो नेता जो कॉंग्रेस के साथ मिला झूली के खेल खेलकर सत्ता हासिल करना चाहते है उन्हे यदि भाजपा ने पुन नेतृत्व दिया तो  गठबंधन रहना मुश्किल होगा  |



No comments:

Post a Comment

Pages