चार्टर्ड अकाउन्टेन्ट्स की राष्ट्रीय सेमिनार ’प्रकर्ष’ में बोले मुख्यमंत्री- मजबूत अर्थव्यवस्था के बिना विकास संभव नहीं - Pinkcity News

Breaking News

Tuesday, 31 December 2019

चार्टर्ड अकाउन्टेन्ट्स की राष्ट्रीय सेमिनार ’प्रकर्ष’ में बोले मुख्यमंत्री- मजबूत अर्थव्यवस्था के बिना विकास संभव नहीं

जयपुर, 31 दिसम्बर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि किसी भी देश की तरक्की का आधार वहां की अर्थव्यवस्था होती है। मजबूत अर्थव्यवस्था के बिना विकास संभव नहीं है। उन्होंने देश के वर्तमान आर्थिक हालातों पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि इन विषम परिस्थितियों में राजस्थान सरकार ने राजस्थान औद्योगिक विकास नीति, एमएसएमई एक्ट, राजस्थान निवेश प्रोत्साहन योजना-2019 सहित उद्योग क्षेत्र के लिए कई बड़े कदम उठाए हैं, जो निश्चित रूप से अर्थव्यवस्था को मजबूती प्रदान करेंगे।
गहलोत मंगलवार को बिड़ला ऑडिटोरियम में चार्टर्ड अकाउन्टेन्ट्स के राष्ट्रीय सेमिनार ’प्रकर्ष’ को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार संवेदनशील, पारदर्शी एवं जवाबदेह शासन की नीति के साथ काम कर रही है। सीए जगत की भी इस दिशा में महत्वपूर्ण भूमिका है। आपके सुझाव गुड गवनेर्ंस और अर्थव्यवस्था को मजबूती देने में मददगार साबित हो सकते हैं।

सामाजिक सुरक्षा योजनाएं बढ़ाती हैं लोगों की क्रय क्षमता
मुख्यमंत्री ने कहा कि यूपीए सरकार में राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा एवं मनरेगा सहित सामाजिक सुरक्षा की कई योजनाएं संचालित की गइर्ं, जिनसे लोगों की क्रय क्षमता बढ़ी। कई बार इन योजनाओं पर प्रश्न खड़े किये गये, लेकिन गरीबों की जेब में जब तक पैसा नहीं पहुंचेगा और उनकी परचेजिंग पावर नहीं बढ़ेगी तो अर्थव्यवस्था में मंदी का माहौल दूर नहीं हो सकता। बेहतर अर्थव्यवस्था के लिए लोगों की क्रय क्षमता बढ़ना जरूरी है। उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह की नीतियों को अपनाकर देश की अर्थव्यवस्था को मजबूत किया जा सकता है।

देश धर्म नहीं, संविधान के आधार पर चलते हैं
गहलोत ने कहा कि देश धर्म के आधार पर नहीं बल्कि संविधान के आधार पर चलते हैं। संविधान के आधार पर ही सरकारें बनती हैं। अगर धर्म के आधार पर देश चलते तो पाकिस्तान के दो टुकड़े नहीं होते। उन्होंने युवाओं से आह्वान किया कि वे भारत के संविधान की प्रस्तावना को पढ़ें और उसकी भावना के अनुरूप देश को आगे ले जाने में अपना सहयोग करेें।

राजनीतिक चंदे के लिए हो पारदर्शी सिस्टम
मुख्यमंत्री ने काले धन का जिक्र करते हुए कहा कि राजनीतिक पार्टियों को इस दिशा में पहल करनी चाहिए। उन्होंने पार्टियों को चुनावी बॉण्ड के तहत मिलने वाले चंदे पर सवालिया निशान खड़े करते हुए कहा कि राजनीतिक चंदे के लिए एक पारदर्शी सिस्टम बनना चाहिए। कार्यपालिका, विधायिका एवं न्यायपालिका को इसके लिए सामूहिक कदम उठाने चाहिए। उन्होंने कहा कि राजनीतिक पार्टियों को अगर चंदे के रूप में काला धन मिलेगा तो फिर हम भ्रष्टाचार मुक्त देश की कल्पना कैसे कर सकते हैं।

राजस्थान के घरानों ने उद्योग जगत में किया नाम रोशन
गहलोत ने सीए जगत में राजस्थान की विशेष पहचान होने पर खुशी व्यक्त करते हुए कहा कि यह राजस्थान का सौभाग्य है कि यहां के सीए देशभर में काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि राजस्थान की माटी में ही ऎसी बात है कि बजाज, सिंघानिया, बिड़ला सहित यहां से निकले कई घरानों ने उद्योग क्षेत्र में अपना नाम रोशन किया है और आज देश की अर्थव्यवस्था को प्रभावित करने की क्षमता रखते हैं।

जयपुर सिटीजन फोरम के चैयरमेन राजीव अरोड़ा ने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नेतृत्व में राज्य सरकार गुड गवर्नेंस की दिशा में आगे बढ़ रही है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने जन घोषणा पत्र में किए गए अपने वादों के मुताबिक उद्योग क्षेत्र के लिए एमएसएमई एक्ट, एक्सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल सहित कई महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं।
कार्यक्रम को आईसीएआई की जयपुर ब्रांच के चैयरमेन लोकेश कासट, सेन्ट्रल काउंसिल के मेम्बर सीए प्रकाश शर्मा एवं जयपुर के ब्रांच के सचिव कुलदीप गुप्ता ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर आईसीएआई के पदाधिकारी प्रमोद कुमार बूब, सतीश कुमार गुप्ता सहित देशभर से आए चार्टर्ड अकाउन्टेन्ट्स और सीए विद्यार्थी उपस्थित थे।

No comments:

Post a Comment

Pages