एस्थेटिक एंड प्रॉस्थेटिक एडवांसमेंट इन कॉर्टिको-बैसल इम्प्लेंटोलॉजी पर कॉन्फ्रेंस 13 दिसम्बर से शुरू होगी - Pinkcity News

Breaking News

Thursday, 12 December 2019

एस्थेटिक एंड प्रॉस्थेटिक एडवांसमेंट इन कॉर्टिको-बैसल इम्प्लेंटोलॉजी पर कॉन्फ्रेंस 13 दिसम्बर से शुरू होगी


-देशभर के करीब 200 से अधिक डेंटिस्ट 23 सेशन में करेंगे चर्चा 
जयपुर, 12 दिसम्बर। एस्थेटिक एंड प्रॉस्थेटिक एडवांसमेंट इन कॉर्टिको-बैसल इम्प्लेंटोलॉजी विषयक कॉन्फ्रेंस में देशभर के करीब 200 से अधिक डेंटिस्ट जुटेंगे। इसमें बैसल इम्प्लांट की एडवांस टेक्निक से हर उम्र के लोगों को होने वाले फायदे के बारे में बताया जाएगा। यह एडवांस टेक्निक किस तरह से दूसरे के मुकाबले कितनी मुफीद(सस्ती) ही नहीं दर्द रहित है, इस पर विचार मंथन किया जाएगा। तीन दिन में करीब 23 सेशन होंगे।
सोसायटी फॉर इमिजिएट लॉडिंग इम्प्लेंटोलॉजी की ओर से यह डेंटिस्ट कान्फ्रेंस शुक्रवार से शुरू होगी जो 15 दिसम्बर तक चलेगी। इस दौरान जयपुर, गुजरात,केरल, पंजाब समेत कई अन्य शहरों  से कई नामी डेंटिस्ट इस कान्फ्रेंस में शामिल होंगे। इसमें जयपुर से डॉ. संकल्प मित्तल, डॉ. शादाब मोहम्मद, केरल सेडॉ. प्रशांत पिल्लैई, गुजरात से किरण पटेल, पंजाब से ें डॉ.नैंसी जैसी नामी डेंटिस्ट पत्र वाचन करेंगे।
इवेंट आर्गेनाइजर डॉ. नीलम माहेश्वरी और डॉ. विवेक गौर गुरुवार को पत्रकारों को बताया कि दांतों में पायरिया, दुर्घटना या कैंसर रोग होने से जबड़ों की खराब हड्डी पर बैसल इम्प्लांट की एडवांस टेक्निक काफी कारगर है। इसमें न तो मरीज को दर्द होता है और न ही उसे इलाज में काफी इंतजार करना पड़ता है। डॉ. पुनीत भार्गव और डॉ.अनीश तलवार ने बताया कि इस टेक्निक से सिर्फ तीन में मरीज नॉर्मल खाना खा सकता है। स्माइल को खूबसूरत बनाने में माहिर जर्मन डॉ.एंटोनिया ईडे ने बताया कि बैसल इम्प्लांट खासतौर से गरीब मरीजों के लिए काफी उपयोगी है। डॉ. नीलम माहेश्वरी ने बताया कि हमारी संस्था नॉन प्रोफेटेबल है जिसका मकसद समाज के हर वर्ग को सस्ता सुलभ इलाज देना है। डॉ. विवेक गौर ने बताया तीन दिवसीय डेंटिस्ट कान्फ्रेंस में जयपुर डेंटल कॉलेज और महात्मा गांधी डेंटल हॉस्पिटल का काफी सहयोग है।

आज कॉर्टिको-बैसल इम्प्लेंटोलॉजी से रूबरू होंगे स्टूडेंट्स

कान्फ्रेंस पहले दिन शुक्रवार को जयपुर डेंटल कॉलेज और महात्मा गांधी डेंटल हॉस्पिटल में अध्ययनरत स्टूडेंट्स को कॉर्टिको-बैसल इम्प्लेंटोलॉजी के बारे में विस्तार से समझाया जाएगा। फिर इसी दिन शाम को होटल क्लार्क्स आमेर में देश के नामी डॉक्टर्स पत्र पढ़ेंगे और चर्चा करेंगे।

No comments:

Post a comment

Pages