लक्ष्मी-नारायण बाईजी मंदिर में तुलसीजी का विवाह - Pinkcity News

Breaking News

Friday, 8 November 2019

लक्ष्मी-नारायण बाईजी मंदिर में तुलसीजी का विवाह

जयपुर। देवउठनी एकादशी पर बड़ी संख्या में तुलसीजी-सालिगरामजी का विवाह हुआ।  बड़ी चौपड़ स्थित लक्ष्मी-नारायण बाईजी मंदिर में महंत पुरुषोत्तम भारती के सान्निध्य में दोपहर में तुलसी-सालिग्राम विवाह हुआ। इससे पूर्व विधिवत पूजा-अर्चना की गई। बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं ने  तुलसी और सालिगरामजी की परिक्रमा की।
इससे पूर्व सुबह शंख-घंटा-घडिय़ाल की मधुर स्वर लहरियों के बीच उतिष्ठो-उतिष्ठो नारायण मंत्र के साथ ठाकुरजी को जगाया गया। सर्वप्रथम चांदी के गिलास में केसर मिश्रित हल्के गर्म दूध का भोग लगाया गया। सुगंधित गुनगुने जल से स्नान कराने के बाद पंचामृत और पंचगव्य से अभिषेक कर नवीन पोशाक धारण कराई गई। ऋतु पुष्पों से आकर्षक शृंगार किया गया। विशेष प्रकार के व्यंजनों का भोग लगाया गया।
यहां भी हुए आयोजन
 पानो का दरीबा सुभाष, चौक स्थित शुक संप्रदाय आचार्य पीठ सरस निकुंज में पीठाधीश्वर अलबेली माधुरी शरण महाराज के सान्निध्य में देवउठनी एकादशी पर ठाकुर राधा सरस बिहारी सरकार को सुबह पीठ के आचार्यों के रचित पदों की मधुर स्वर लहरियों के साथ जगाया गया। अभिषेक, पूजा और शृंगार के कार्यक्रम हुए। चौड़ा रास्ता स्थित राधा दामोदरजी, रामगंज स्थित लाड़लीजी, पुरानी बस्ती स्थित गोपीनाथजी सहित अन्य मंदिरों में भी देवउठनी एकादशी धूमधाम से मनाई गई। लक्ष्मी जगदीश महाराज के मंदिर में देवउठनी एकादशी पर शुक्रवार को मेला भरा। अनेक धार्मिक आयोजनों में हजारों श्रद्धालुओं ने लक्ष्मी-जगदीश भगवान दर्शन किए। खीर-मालपुओं का भोग लगाया।


No comments:

Post a comment

Pages