13 डांसेज के जरिए 462 स्टूडेंट्स ने मंच पर जीवित किया उनकी यादों का भारत - Pinkcity News

Breaking News

Saturday, 19 October 2019

13 डांसेज के जरिए 462 स्टूडेंट्स ने मंच पर जीवित किया उनकी यादों का भारत

  • - रोड सेफ्टी पर किए गए नाटक के ज़रिए बताया सड़क सुरक्षा का महत्व
  • - बीकन पब्लिक स्कूल का आठवां वार्षिक उत्सव आयोजित
जयपुर, 19 अक्टूबर। देश के विभिन्न राज्यों के कल्चर, आर्टफॉर्म और त्योहारों को नन्हें मुन्हो ने नृत्य के माध्यम से मंच पर साकार किया। कुछ ऐसा ही खूबसूरत नजारा था बीकन पब्लिक स्कूल की ओर से आयोजित हुए आठवें वार्षिक उत्सव का। दादी का फाटक स्थित वृन्दावन गार्डन में शनिवार, 19 अक्टूबर की शाम को आयोजित हुए कार्यक्रम में बच्चों ने रंगारंग कार्यक्रमों की छटा बिखेरी।
कार्यक्रम की शुरुआत स्कूल के डायरेक्टर अभिषेक पाटनी, गरिमा जैन, प्रिंसिपल सुनीता कटेवा और शीतल गर्ग ने दीप प्रज्जवलित कर की।
कार्यक्रम के आरम्भ में स्टूडेंट्स ने इंडियन डांस फॉर्म्स के मेल से तैयार किये गए नृत्य के जरिए गणेश वंदना की। शो का खास आकर्षण 4 दोस्तों की खूबसूरत कहानी का चित्रण रहा, जहां नर्सरी से 11 क्लास के छात्रों-छात्राओं ने 4 दोस्तों के भारत भ्रमण से जुड़ी अपनी यादें कहानी के रूप में पेश की।
गजेंद्र, चर्चित, अनुष्का और लक्षिता द्वारा किए गए नरेशन ने मंच पर पूरे भारत के विभिन्न हिस्सों से जुड़ी बचपन की यादों को शब्दों में पिरोया। वहीं दूसरे स्टूडेंट्स ने उनकी कहानी को छवि देते हुए 13 डांसेज के जरिये पंजाबी, ओड़िया, राजस्थानी, हरयाणवी, नागालैंड, साउथ इंडिया आदि राज्यों को मंच पर जीवित किया। जिसके साथ ही देश के सबसे चर्चित त्यौहार जैसे स्वंत्रता दिवस, ईद, गुजरात का डांडिया, कोलकाता की दुर्गा पूजा, गोवा का क्रिसमस, राजस्थान की तीज, असम का बिहू, मथुरा की जन्माष्टमी आदि से माहौल में उत्सव का रंग घोल दिया।
लगभग 1300 दर्शकों के बीच 462 स्टूडेंट्स के द्वारा किए गए इस आयोजन में स्टूडेंट्स ने रोड सेफ्टी पर एक स्किट से सभी को सड़क सुरक्षा का महत्व समझाया। थिएटर डायरेक्टर अजय जैन द्वारा तैयार किए गए इस नाटक में 4 दोस्तों की कहानी दिखाई गई जिसमें स्कूल में हीन भावना से त्रस्त एक बच्चें की कम उम्र में बाइक चलाने से मृत्यु हो जाती है। नाटक के बाद डायरेक्टर अभिषेक पाटनी ने बताया कि अक्सर स्कूल और कॉलेज में देखा गया है कि बच्चें दोस्तों को शो ऑफ़ करने के लिए बिना सही प्रशिक्षण के कार और बाइक लेकर पढ़ने जाते है जो कि अक्सर बड़े एक्सीडेंट्स की वजह बनती है। ऐसे में हम इस नाटक के जरिए स्कूल में चलाई जा रही रोड सेफ्टी की मुहीम को बढ़ावा देते हुए जागरूकता लाना चाहते हैं।



No comments:

Post a comment

Pages