राजस्थान के 10 स्टार्टअप को मिलेगी वैश्विक पहचान, आई स्टार्ट के तहत पंजीकृत 10 स्टार्टअप का माइक्रोसॉफ्ट ने किया चयन - Pinkcity News

Breaking News

Thursday, 17 October 2019

राजस्थान के 10 स्टार्टअप को मिलेगी वैश्विक पहचान, आई स्टार्ट के तहत पंजीकृत 10 स्टार्टअप का माइक्रोसॉफ्ट ने किया चयन

'हाइवे टू ए 100 यूनिकार्नस्'' कार्यक्रम का हुआ आयोजन
राज्य के 90 स्टार्टअप का हुआ था प्रांरभिक चयन 
 जयपुर, 17 अक्टूबर। राज्य के युवा उ़द्यमियों के लिए गुरूवार का दिन अहम सौगात लेकर आया। राज्य सरकार एवं माइक्रोसॉफ्ट के संयुक्त तत्वाधान में यहां निजी होटल में आयोजित ’’हाइवे टू ए 100 यूनिकार्नस्’’ कार्यक्रम के तहत राजस्थान सरकार के आई स्टार्ट कार्यक्रम में पंजीकृत 10 स्टार्टअप्स का माइक्रोसॉफ्ट ने चयन किया है। इस चयन से इन स्टार्टअप को वैश्विक स्तर पर पहचान मिलेगी। यह जानकारी प्रमुख शासन सचिव, सूचना प्रौद्योगिकी एवं जनसम्पर्क अभय कुमार ने दी।
       उन्होंने कहा कि राजीव (राजस्थान इनोवेशन विजन) के तहत आयोजित कार्यक्रम में आई स्टार्ट में पंजीकृत 90 स्टार्टअप में से माइक्रोसॉफ्ट ने 10 स्टार्टअप को चयनित किया है। इनमें शिक्षा के क्षेत्र में सिक्योर लर्निग व टींकर्ली स्टार्टअप, रिटेल के क्षेत्र में बिक्स 42 व डील शेयर, हैल्थ केयर क्षेत्र में मेडकोडस व एम हील, टैक्सटाइल्स के क्षेत्र में हॉलसेल बाक्स, रिक्रूटमेंन्ट के क्षेत्र में हॉयर फॉक्स, विजिटर मैनेजमेन्ट के क्षेत्र में एम पास तथा आईटी के क्षेत्र में रॉरोम स्टार्टअप को चयनित किया गया है। ये स्टार्टअप जयपुर, कोटा, जोधपुर एवं उदयपुर के नव उद्यमियों के है।
 कुमार ने कहा कि राज्य सरकार ने स्टार्टअप को बढ़ावा देने के लिए आई स्टार्ट कार्यक्रम शुरू किया है। इसके तहत लगभग 1500 से अधिक स्टार्टअप पंजीकृत हो चुके है। उन्होंने कहा कि स्टार्टअप को बढ़ावा देने के लिए आर्थिक एवं तकनीकी सहायता उपलब्ध कराई जा रही है। स्टार्टअप के माध्यम से समाज में आ रही वर्तमान चुनौतियों का समाधान संभव हो पा रहा है तथा समाज में हो रहे बदलाव को समयोजित करते हुए परिवेश के अनुकुल स्टार्टअप को प्रोत्साहन दिया जा रहा है।
       इस मौके पर आयुक्त, सूचना एवं जनसम्पर्क डॉ. नीरज के. पवन ने कहा कि यह एक अच्छा कार्यक्रम है जिसमें राज्य सरकार के साथ माइक्रोसॉफ्ट जुडकर के राज्य के जो 10 स्टार्टअप और उच्च स्तर पर ले जाया जा रहा है। इससे युवाओं को और नए स्टार्टअप को प्रेरणा मिलेगी। नए आइडियाज के साथ तकनीक का इस्तेमाल कर राजस्थान के युवा परिवार एवं समाज के लिए सहभागिता दे रहे है। ऐसे युवाओं को यह कार्यक्रम सफलता की ऊंचाईयों पर ले जाने का प्रयास है।
      माइक्रोसॉफ्ट फॉर स्टार्टअप की कन्ट्री हैड़  लेथिका पाई ने कहा कि ’’हाइवे टू ए 100 यूनिकार्नस्’’ कार्यक्रम के तहत पूरे देश से 100 स्टार्टअप का चयन किया जा रहा है और यह चयन द्वितीय श्रेणी के शहरों से हो रहा है। उन्होंने कहा कि इन शहरों में प्रतिभाएं छुपी हुई है और नए उद्यमियों को प्लेटफार्म प्रदान कर वैश्विक स्तर पर इनको ले जाने का माइक्रोसॉफ्ट का यह एक प्रयास है। उन्होंने कहा कि प्रतिभाएं बाहर लाकर ईको सिस्टम के अन्तर्गत वैश्विक चुनौतियों पर सफलता प्राप्त करना है।
      इस अवसर पर राज्य के 100 से अधिक स्टार्टअप ने भाग लिया। कार्यक्रम की शुरूआत में संयुक्त शासन सचिव, आयोजना अभिमन्यु कुमार ने कहा कि राजस्थान आज जयपुर, कोटा, एवं उदयपुर में नए उद्यमियों को स्टार्टअप में विश्व स्तरीय सुविधाएं उपलब्ध करा रहा है। स्टार्टअप के लिए तकनीकी सहायता, मेंटरिग एवं आर्थिक सहायता उपलब्ध कराकर युवाओं को बेहतर रोजगार की दिशा में आगे बढ़ाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि माइक्रोसॉफ्ट के सहयोग से आयोजित यह कार्यक्रम युवाओं में नव उत्साह का संचार करेगा।

No comments:

Post a comment

Pages