राजस्थान के समस्त महाविद्यालयों में रोवर रेंजर के यूनिट पंजीकृत कराने का हरसंभव प्रयास करूंगा : भंवर सिंह भाटी - Pinkcity News

Breaking

Wednesday, 21 August 2019

राजस्थान के समस्त महाविद्यालयों में रोवर रेंजर के यूनिट पंजीकृत कराने का हरसंभव प्रयास करूंगा : भंवर सिंह भाटी

नेषनल लेवल रोवर रेंजर मीट : उच्च शिक्षा मंत्री भंवर सिंह भाटी ने किया अवलोकन

जयपुर, 21 अगस्त, 2019। रेंजरिंग के भारतवर्ष में 100 वर्ष पूर्ण होने के उपलक्ष्य में जयपुर के जगतपुरा स्थित स्काउट गाइड के राज्य प्रषिक्षण केन्द्र पर 19 अगस्त से चल रहे पाँच दिवसीय नेषनल रोवर रेंजर मीट के तीसरे दिन बुधवार 21 अगस्त को प्रातः 11.30 बजे राजस्थान के उच्च शिक्षा मंत्री भंवर सिंह भाटी के मुख्य आतिथ्य में गतिविधियों का आयोजन हुआ। इस अवसर पर आयोजित समारोह की अध्यक्षता प्रदेष संगठन के स्टेट चीफ कमिष्नर एवं भारत स्काउट व गाइड के अन्तर्राष्ट्रीय कमिष्नर (स्काउट) जे.सी. महान्ति, आई.ए.एस. (से.नि.) ने की एवं विषिष्ट आतिथ्य स्टेट कमिष्नर (सामाजिक सेवा) जितेन्द्र कुमार सोनी, आई.ए.एस. एवं स्टेट कमिष्नर (रोवर) निर्मल पंवार द्वारा किया गया।
भंवर सिंह भाटी ने देष के 20 राज्यों से सहभागिता कर रहे रोवर रेंजर्स को रेंजरिंग के 100 वर्ष पूर्ण होने पर बधाई देते हुए कहा कि यह रोवर रेंजर का समागम जो यहाँ दिखाई दे रहा है, यही देष का भविष्य है। मुझे खुषी है कि इस राजस्थान को इस कार्यक्रम को आयोजित करने का सौभाग्य मिला। मैं अपनी मरू धरती पर सभी का स्वागत करता हूँ। जैसा कि मुझे बताया कि इस दौरान सांस्कृतिक कार्यक्रम, फ्री बीईंग मी, सतत विकास लक्ष्य इत्यादि अनेक कार्यक्रम व गतिविधियों का आयोजन होगा। सभी राज्यों की अपनी-अपनी अलग अलग सांस्कृतिक व अन्य विषेषताएं हैं, उन सब का आपस में आदान-प्रदान करेंगे तो मैं समझता हूँ कि आप पूरे भारत को यहाँ से समझ कर जाऐंगे, जो आपके जीवन में निष्चित रूप से उपयोगी साबित होगा।
भाटी ने कहा कि राजस्थान सरकार सदैव ऐसे संगठनों को प्रोत्साहन देने का काम किया जाता है। मैं राजस्थान के समस्त महाविद्यालयों में रोवर रेंजर के यूनिट पंजीकृत कराने का हरसंभव प्रयास करूंगा।
कार्यक्रम के अध्यक्ष जे.सी. महान्ति ने कहा कि इस पाँच दिवसीय मीट में पूरे उल्लास के माहौल में सारी गतिविधियाँ हो रही है। महान्ति ने बताया कि पूरे देष में लगभग 50 लाख स्काउट गाइड पंजीकृत हैं, जिनमें से राजस्थान में 10 लाख की संख्या है, जो राजस्थान को एक विषिष्ट स्थान प्रदान करता है और हम सभी गतिविधियां आयोजित करने में आगे रहते हैं। हमारा उद्देष्य इन बच्चों में काॅफिडेंस डवलप करना, स्वावलम्बी बनाना और अनुषासित बनाना है। इसलिए हमारा आग्रह हैं कि ऐसे संगठन के यूनिट प्रदेष के प्रत्येक महाविद्यालय में पंजीकृत हो जाये तो युवा पीढ़ी को एक नई दिषा और सकारात्मक दृष्टिकोण मिल सकेगा।
समारोह के प्रारम्भ में स्टेट कमिष्नर निर्मल पंवार ने अपने स्वागत उद्बोधन में सभी पदाधिकारियों एवं संभागियों का जयपुर के इस प्रांगण में स्वागत करते हुए कहा कि आप सभी देष की युवा पीढ़ी हैं, जिनके ऊपर राष्ट्र निर्माण का दायित्व है। देष तभी आगे बढ़ सकेगा जब हम सभी एक हों और एक-दूसरे के साथ सहयोग व सामंजस्य बनाते हुए अपना कर्तव्य निभाना होगा। आज की सबसे बड़ी समस्या स्ट्रेस पर इस मीट में विचार-विमर्ष कर युवा पीढ़ी को इस समस्या से दूर रहने के उपाय जानने व समझने चाहिये।
समारोह में कर्नाटक की रेंजर्स द्वारा फसल पकने पर होने वाले लोकनृत्य की षानदार प्रस्तुति दी गई। उत्तर प्रदेष की रेंजर्स द्वारा जनमाष्टमी के अवसर पर होने वाले राधा-कृष्ण नृत्य की मनभावन मनमोहक प्रस्तुति ने सभी अतिथियों एवं उपस्थितजनों की तालियाँ बटोरी। षिविर की संचालिका राष्ट्रीय मुख्यालय की उपनिदेषक (गाइड) सुश्री एम.एन. माचम्मा ने उपस्थित अतिथियों को षिविर रिपोर्ट प्रस्तुत कर षिविरावधि में आयोजित होने वाले कार्यक्रमों व प्रतियोगिताओं के बारे में अवगत कराया।
षिविर के चतुर्थ दिवस गुरूवार 22 अगस्त को प्रातः 8 बजे षिविर में सहभागिता कर रहे राजस्थान, उड़ीसा, मेघालय, पंजाब, हरियाणा, महाराष्ट्र, मध्यप्रदेष, उत्तरप्रदेष, कर्नाटक, आन्ध्रप्रदेष, केरल, दादरा नागर हवेली, छत्तीसगढ़, प.बंगाल इत्यादि 20 राज्यों के लगभग 350 रोवर रेंजर द्वारा रैली निकाली जायेगी, जो कनोड़िया काॅलेज सर्किल से प्रारम्भ होकर वल्र्ड ट्रेड पार्क पर आकर सम्पन्न होगी।

No comments:

Post a Comment

Pages