सहकारी भूमि विकास बैंक ऋण वितरण के क्षेत्र में लायेंगी विविधता,किसानों को कृषि आधारित उद्यम सहित नवीन क्षेत्रों में भी मिलेगा ऋण - Pinkcity News

Breaking

Saturday, 31 August 2019

सहकारी भूमि विकास बैंक ऋण वितरण के क्षेत्र में लायेंगी विविधता,किसानों को कृषि आधारित उद्यम सहित नवीन क्षेत्रों में भी मिलेगा ऋण


 जयपुर, 31 अगस्त। रजिस्ट्रार, सहकारिता डॉ. नीरज के. पवन ने कहा कि प्राथमिक सहकारी भूमि विकास बैंक नई सोच के साथ आगे बढ़ते हुये किसानों के जीवन स्तर के उन्नयन के लिये उनकी आवश्यकता के अनुसार ऋण मुहैया करायेंगी। उन्होंने कहा कि बैंकों को परम्परागत कार्यों के अलावा कृषि आधारित उद्यम सहित नवीन क्षेत्रों में भी किसान को ऋण वितरण किया जायेगा ताकि स्थानीय स्तर पर अधिक से अधिक रोजगार उपलब्ध हो सके।
 डॉ. पवन शनिवार को राजस्थान राज्य सहकारी भूमि विकास बैंक की नेहरू सहकार भवन में आयोजित की गई 55वीं वार्षिक साधारण सभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि विभाग स्तर से राजस्थान राज्य सहकारी भूमि विकास बैंक एवं प्राथमिक सहकारी भूमि विकास बैंकों के उद्वेश्यों में परिवर्धन कर उन क्षेत्रों को भी जोड़ा जा रहा है, जिनमें किसानों को ग्रामीण क्षेत्र में कृषि आधारित उद्योग लगाने के लिये आसानी से ऋण वितरण संभव हो सकेगा।
बैंकों में शीघ्र होगी भर्तियां
 रजिस्ट्रार ने कहा कि बैंकों में आवश्यक मानव संसाधन उपलब्ध कराने के लिये सहकारी भर्ती बोर्ड के माध्यम से शीघ्र भर्ती प्रकिया शुरू होगी। उन्होंने बताया कि इसके लिये तैयारियां कर ली गई हैं। उन्होंने कहा कि यह बैंक कर्मचारियों व अधिकारियों के साथ-साथ चुने हुये प्रतिनिधियों का दायित्व है कि वे अपने कार्यक्षेत्र में बैंक के माध्यम से लागू होने वाली राज्य सरकार एवं केन्द्र सरकार की योजनाओं की जानकारी दें ताकि अधिक से अधिक पात्र व्यक्ति योजनाओं का लाभ ले सके।
 राजस्थान राज्य सहकारी भूमि विकास बैंक के प्रशासक जी एल स्वामी ने अपने प्रशासकीय भाषण में कहा कि बैंकों को किसानों की आवश्यकता के साथ-साथ उनकी रिपेमेन्ट की क्षमता को भी ध्यान में रखकर ऋण वितरण करना चाहिये ताकि एनपीए में वृद्धि को रोका जा सके।
 प्रबंध निदेशक, राजस्थान राज्य सहकारी भूमि विकास बैंक राजीव लोचन शर्मा ने साधारण सभा के सम्मुख एजेण्डा के अनुसार वर्ष 2018-19 की अवधि के अंतिम लेखे, लाभ वितरण का चिट्ठा, वर्ष 2018-19 के वास्तविक आय एवं व्यय, वर्ष 2019-20 के लिये संशोधित बजट, वर्ष 2019-20 की अवधि के लिये ऋण वितरण के लक्ष्य सहित ऑडिट रिपोर्ट की अनुपालना रिपोर्ट रखी, जिन्हे सदन द्वारा सर्वसम्मति से अनुमोदित किया गया।

96 लाख का होगा लाभांश वितरण
चित्तौगढ़, बीकानेर एवं रायसिंहनगर बैंक रहे वसूली में अव्वल, मिला पुरस्कार
 उन्होंने बताया कि बैंक वर्ष 2018-19 की अवधि के लिये सदस्य बैंकों को 96 लाख रुपये का लाभांश वितरण करेगा। साधारण सभा में रजिस्ट्रार, सहकारिता ने प्रदेश में वसूली में प्रथम स्थान के लिये चित्तौडगढ़ बैंक, द्वितीय स्थान के लिये बीकानेर बैंक तथा तृतीय स्थान के लिये रायसिंहनगर बैंक को ट्रॉफी एवं प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया।ं
 साधारण सभा में अतिरिक्त रजिस्ट्रार (मोनेटरिंग) तारा चंद बलाई, राज्य सरकार के प्रतिनिधि मेवाराम जाट, प्राथमिक सहकारी भूमि विकास बैंक अजमेर के अध्यक्ष चेतन चौधरी, कोटा के दयाराम गुंजल, जोधपुर के गेम्भर सिंह भाटी, सिरोही के योगेश सिंह राठौड़, चुरू के ईशरराम डूडी, रायसिंह नगर के इन्द्रजीत सिंह रंधावा, चित्तोडगढ़ के कमलेश पुरोहित, उदयपुर के रेवा शंकर गायरी, बिलाड़ा के उपाध्यक्ष नारायण राम माली एवं बीकानेर के उपाध्यक्ष कानाराम कंस्वा ने भाग लिया। साधारण सभा में केकड़ी बैंक, टोंक, अलवर, हिण्डौन सिटी बैंक के प्रशासक तथा महाप्रबंधक, राजस्थान राज्य सहकारी भूमि विकास बैंक नवीन शर्मा तथा बैंक के संबंधित अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे।

No comments:

Post a Comment

Pages