युवा उत्सव जज्बा 1.0 का फिनाले को भव्यता के साथ मनाया गया जयपुर में - Pinkcity News

Breaking

Sunday, 21 July 2019

युवा उत्सव जज्बा 1.0 का फिनाले को भव्यता के साथ मनाया गया जयपुर में

सामाजिक सशक्तिकरण को प्राप्त करने के लिए डिजिटल इनोवेशन्स  किये गए  लॉन्च
महोत्सव में डिजिटल दुनिया के दिग्गजों और जयपुर और भारत के युवाओं ने लिया भाग
आईआईईसी समुदाय द्वारा आयोजित जज़्बा 1.0 ने युवाओं को एंटरप्रिन्योर के
सिखाए गुर
जयपुर।  इंडियन इनोवेशन एंड एंट्रेप्रेन्योरशिप द्वारा आयोजित  जज़्बा 1.0,  में रखी गयी डिजिटल टेक्नोलोटी द्वारा  सामाजिक सशक्तिकरण और स्टार्ट-अप के अवसर प्रदान करने की नीव  , कार्यक्रम का भव्य समापन हुआ जयपुर के जी पी बिरला ऑडिटोरियम, रुक्मणि बिरला स्कूल में हुआ। 
क्रिएटिविटी, दृढ़ता और कड़ी मेहनत से सरोबार डिजिटल आयोजन में जयपुर, राजस्थान और भारत के विभिन्न जगहों के युवाओं ने समाज में उत्तम बदलाव के लिए पथप्रदर्शक डिजिटल क्रियेशन्स को लॉन्च किया।
इंडियन इनोवेशन और एंटरप्रिन्योर कम्युनिटी (आइआइईसी) की ओर से और शिक्षाविद और टेक्नोक्रैट विमल दागा और कन्वेनर प्रीत दागा  द्वारा आयोजित किए फिनाले में डिजिटल दुनिया की प्रतिष्ठित हस्तियों और पेशेवरों ने भाग लिया। यह आयोजन  लिनक्स वर्ल्ड इन्फोर्मेटिक्स प्राइवेट लिमिटेड और रेडहैट  द्वारा संचालित किया गया था।
प्रौद्योगिकी और सामाजिक सशक्तिकरण के इस मेल को भव्य फिनाले में देखा गया। एजुकेटर और टेक्नोक्रैट विमल दागा और कन्वेनर प्रीती दागा द्वारा भव्यता से शुरू किए गए इस आयोजन से युवाओं को बड़े रूप में अवसर की प्राप्ति हुई।  इस अवसर ने प्रौद्योगिकी और उद्यमशीलता और स्टार्टअप से संबंधित विचारों के आदान-प्रदान में प्रतिभा को उजागर करने के लिए एक अवसर के रूप में कार्य किया। कार्यक्रम के दौरान फेलिसिटेशन और अवार्ड सेरेमनी में स्टूडेंट्स को उनकी क्रिएटिविटी के लिए सम्मान दिए गए। 
आयोजन के दौरान युवाओं के लिए डिजिटल दुनिया के दिग्गज से मिलने और खुद का स्टार्ट अप शुरू करने की बारीकियों की जानकारी मिली। कार्यक्रम की शुरुआत राजस्थान एंजल्स (आरएआईएन) के चेयरमैन महावीर शर्मा और रेड हैट से नीरज भाटिया द्वारा की गई।
युवाओं को एक आदर्श एनवायरनमेंट में अपने स्टार्टअप्स को इस तरह तैयार करने का मौका मिला कि उन्होंने वीमेन सेफ्टी, भुखमरी, गरीबी, नेत्रहीन के जीवन को आसान करना, चोरी से बचाव, कृषि उपज में सुधार, यातायात की दिक्कतों में कमी से लेकर हेल्थकेयर और पर्यावरण स्थिरता जैसे कई बड़े मुद्दों पर रौशनी डाली जो आज मौजूदा समय में सुधार की नजर से नामुनकिन से है।
कार्यक्रम के दौरान महावीर शर्मा कहते है कि इस तरह के उत्सव नोबेल पहल के रूप में काम करते हैं और छात्रों में उद्यमिता कौशल विकसित करते हुए 'मेकिंग इंडिया, फ्यूचर रेडी' की दृष्टि को प्राप्त करने की दिशा में काम करते हैं। मुझे सशक्तिकरण के इस आयोजन का हिस्सा बनने में काफी खुशी महसूस होती है जिसका उद्देश्य युवाओं को प्रशिक्षित, मार्गदर्शन और प्रेरित करना है।

इस अवसर पर रेडहैट से Nayan Bheda, Renowned Digital Educator  कहते है कि यदि आप अपने जुनून से प्रेरित हैं और जज़्बा रखते हैं तो आप निश्चित रूप से सफलता की ऊंचाइयों को छू सकते हैं। जो छात्र आज यहां एकत्र हुए हैं, वो यही साबित करने की कोशिश कर रहे है। समाज में परिवर्तन की दिशा में टेक्नोलॉजी ने केंद्र में जगह बनाई और युवाओं ने देश के विकास के लिए अपने टेक्निकल नॉलेज और क्रिएटिविटी का उपयोग किया। मैं इस शानदार काम को शुरू करने और इस भव्य परिमाण के आयोजन के लिए युगल विमल और प्रीति डागा को बधाई देता हूं।
आइआइईसी के संस्थापक विमल डागा ने बताया कि आज जज़्बा के समापन के साथ हमने युवाओं को डिजिटल तकनीक के इस्तेमाल के साथ बेहतरीन काम के लिए सम्मानित भी किया। इसी के साथ उन्होंने सामाजिक सशक्तिकरण का मार्ग प्रशस्त किया और अपनी उद्यमशीलता की यात्रा शुरू करने के लिए प्रेरित किया। उन सभी स्टूडेंट्स के गाइडेंस और एंटरप्रिन्योर ज्ञान के विकास के लिए हमने अनुभवी पेशेवरों, शिक्षकों और सफल उद्यमियों का सहारा लिया।
कार्यक्रम के दौरान हुए लाइव सत्र, इंटरैक्शन, प्रस्तुतियों के साथ ही स्टूडेंट्स टीचर्स और स्टार्ट-अप एक्सपर्ट के बीच विचारों के आदान-प्रदान देखने लायक रहा। दिन के अंत के साथ ही  युवा उद्यमियों और छात्रों के बीच मिलने और बधाई देने का उत्साह खास रहा। छात्रों को सामाजिक मुद्दों पर अपनी तकनीकी प्रस्तुतियों को दिखाने के लिए भी प्रेरित किया गया। इसी के साथ ही अपने संबंधित बूथों से यंग एंटरप्रेन्योर्स के साथ मीटिंग, पिच और टीम बनाने का अवसर लिया। जैसे-जैसे दिन चढ़ता गया, वैसे-वैसे कार्यक्रम में रोमांचकारी प्रदर्शन देखने को मिले। शाम को अवार्ड के लिए विमल और प्रीति डागा द्वारा अवार्ड, सर्टिफिकेट, स्कॉलरशिप देकर स्टूडेंट्स के कार्यों की प्रसंशा की गई।इस अवसर पर हैश टेक वेंचर्स के फाउंडर नयन भेदा ने डिजिटल एंट्रेप्रिन्योरशिप में फंडिंग के रहस्यों पर युवाओं को प्रेरित किया। वहीं आईबीएम ग्लोबल के विक्रांत कुमार ने बिग डेटा एनालिटिक्स पर सभी को संबोधित किया। इस कार्यक्रम में इंजीनियरिंग छात्रों और विभिन्न संगठनों के प्रतिनिधियों के नेतृत्व में 75+ से अधिक स्टार्टअप की मेजबानी की गई।
युवाओं को प्रोत्साहित करने के लिए इस मौके पर हैश टेक वेंचर्स के फाउंडर नयन भाटिया ,  ए एच् आई के को फाउंडर अभिजीत कुमार,  के वाई टी के फाउंडर गगन गुप्ता ,टेलस्मिथ कंसल्टिंग के फाउंडर प्रमोद सदरजोशी ,  बिल्लेनियम दिवस फण्ड के भावेश कोठरी, सतधावक ग्रुप के को फाउंडर उदय प्रताप सिंह और कई स्टार्टअप्स के प्रतिनिधियों और डिजिटल जगत के नामचीन लोगों ने भाग लिया , इस अवसर पर आई बी ऍम ग्लोबल से श्री विक्रांत कुमार भी उपस्थित रहे और उन्होने विधार्थियों को सम्बोधित किया।


No comments:

Post a Comment

Pages