भागवत सभी ग्रंथों का सार: अकिंचन - Pinkcity News

Breaking News

Thursday, 6 June 2019

भागवत सभी ग्रंथों का सार: अकिंचन

जयपुर। आमेर रोड दशहरा कोठी स्थित गोविंद नगर पूर्व में गोपीचंद सर्राफा की स्मृति में गुरुवार से श्रीमद्भागवत कथा  शुरू हुई। व्यासपीठ से अकिंचन महाराज ने अपनी 455वीं कथा में प्रवचन करते हुए कहा कि भागवत सभी गं्रथों का सार है। भागवत की शिक्षाओं को जीवन में उतारने वाल सदैव अभय रहता है। भागवत में जो ज्ञान है वही अन्य धार्मिक ग्रंथों में है। जो भागवत में नहीं है वह कहीं भी नहीं है। इससे पूर्व गोविंद नगर पूर्व सीतारामपुरी स्थित तत्कालेश्वर महादेव मंदिर से गाजे-बाजे के साथ कलश यात्रा निकाली गई जो विभिन्न मार्गों से होते हुए कथा स्थल पहुंची। आयोजक रतन देवी अग्रवाल ने बताया कि 12 जून तक प्रतिदिन दोपहर एक से शाम पांच बजे तक होगी। 9 जून को नंदोत्सव मनाया जाएगा। 10 जून को गोवर्धन पूजन होगा तथा छप्पन भोग की झांकी सजाई जाएगी। 11 जून को रासलीला के बाद रुक्मणी विवाह का प्रसंग होगा। सुदामा चरित, परीक्षित मोक्ष के साथ 12 जून को कथा का विश्राम होगा।

No comments:

Post a comment

Pages