सूर्य मिलन साधना शिविर के प्रतिनिधियों ने बताया महत्व - Pinkcity News

Breaking News

Thursday, 30 May 2019

सूर्य मिलन साधना शिविर के प्रतिनिधियों ने बताया महत्व


जयपुर।  राजस्थान कॉलेज में 1 से 10 जून तक आयोजित होने वाले सूर्य मिलन साधना शिविर से पूर्व शहर वासियों को अवगत कराने के लिए गोविंद देव जी मंदिर परिसर में शिविर से जुड़े लोगों ने हजारों श्रद्धालुओं को शिविर का महत्व बताया और शिविर में आने का निमंत्रण दिया।  इस दौरान प्रतिनिधि राजेंद्र सिंह एवं उनकी टीम के सदस्यों ने श्रद्धालुओं को प्राकृतिक औषधियों से युक्त शरबत का महत्व बताते हुए पान कराया।  लगभग 5 घंटे चले इस आयोजन में बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं ने एनर्जी टी का सेवन किया।
 राजस्थान कॉलेज में आयोजित होने वाले सूर्य मिलन साधना शिविर के लिए शहर भर से लगभग 25000 लोग हिस्सा लेंगे।  इतने बड़ी संख्या में आने वाले साधकों की व्यवस्था बनाए रखने के लिए रजिस्ट्रेशन किया जा रहा है।  इस दौरान शहर के लगभग 200 स्थानों पर पिछले 1 महीने से साधकों को प्रशिक्षण एवं भोजन द्वारा स्वास्थ्य और सूर्य एवं चंद्र नाड़ी के प्रयोग करवाकर शिविर में मिलने वाले लाभों से अवगत कराया जा रहा।   इस शिविर के लिए शहर के प्रत्येक उद्यान व पार्क और सार्वजनिक स्थानों पर डेमो सत्र के लगभग 300 से ज्यादा आयोजन किए जा चुके हैं। 
शिविर के प्रचार-प्रसार अधिकारी राजेश नागपाल ने बताया कि हम हमारे बच्चे हमारा परिवार ऊर्जा से कैसे लबालब रहे इसके बारे में सन टू ह्यूमन के प्रमुख परम आ ल य के द्वारा बताया जाएगा कि हम सोचते हैं मेडिसिन बीमारी ठीक कर देगी पर कर क्यों नहीं पाती हम सोचते हैं स्कूल बच्चों को नंबर वन बना देंगे पर बना क्यों नहीं पाते जाते तो हम हैं कि हमारा जीवन स्वस्थ समृद्ध आनंद में हो लेकिन क्या हकीकत में हो पाता है आखिर हमसे कहां भूल हो रही है।  इस प्रकार के नए दृष्टिकोण को लेकर इस शिविर में अनेक महत्वपूर्ण जानकारियां दी जाएगी। 
अजय मित्तल आलोक तिजारिया नरेंद्र वैद्य कमल सोमानी संजय माहेश्वरी ने बताया सुबह शिविर में 2 घंटे के सत्र में अलग-अलग तकनीक द्वारा सूर्य नाड़ी को जागृत करके नाभि झटका प्रयोग द्वारा ब्रेन की शक्तियों को जगाने ज्योति के माध्यम से अपना मैग्नेटिक ओरा निर्मित करने एवं परमाले जी द्वारा हमारी छठी इंद्री लार को शक्तिशाली बना कर संकल्प शक्ति बढ़ाने के प्रयोग करवाएंगे।  सुबह व शाम की 10 दिनों की सभी सत्र बिल्कुल अलग अलग होते हैं।  सुबह के सत्र के बाद 15 तरह का निशुल्क नाश्ता दिया जाता है जो ब्रेन की शक्तियों को तेजी से जगाता है और शाम को 7 तरह का लिक्विड दिया जाता है जो पेट को शक्तिशाली बनाता है।  शिविर के लिए राजस्थान कॉलेज में निशुल्क रजिस्ट्रेशन 31 मई तक सुबह 7:00 से 9:00 व सायं 6:00 बजे बाद किए जा रहे हैं।  शिविर का शुभारंभ 1 जून को निर्धारित समय पर सुबह 6:00 बजे होगा शिविर में आधे घंटे पूर्व एंट्री रजिस्ट्रेशन धारियों को दी जाएगी।

No comments:

Post a comment

Pages