जेडीए की एक ओर नई पहल : भवन मानचित्र अनुमोदन के आवेदन भी होंगे आॅनलाईन - Pinkcity News

Breaking

Thursday, 2 May 2019

जेडीए की एक ओर नई पहल : भवन मानचित्र अनुमोदन के आवेदन भी होंगे आॅनलाईन

jda jaipur के लिए इमेज परिणाम
जयपुर, 02 मई। जयपुर विकास प्राधिकरण में संस्थानिक, आवासीय एवं व्यावसायिक भूखण्डों के भवन मानचित्र के अनुमोदन के लिए आॅफलाईन आवेदन बंद करते हुए 3 मई, 2019 से आॅनलाईन आवेदन स्वीकार किए जाएंगे।
जयपुर विकास आयुक्त टी. रविकंात ने बताया कि वर्तमान में जेडीए के नागरिक सेवा केंद्र पर संस्थानिक, आवासीय एवं व्यावसायिक भूखण्डों के भवन मानचित्र अनुमोदन के लिए आवेदको से हार्ड काॅपी में आॅफलाईन आवेदन प्राप्त कर अनुमति प्रदान दी जाती रही है।
उन्होंने बताया कि आवेदन प्रक्रिया को पारदर्षी, जवाबदेह एवं सुविधाजनक बनाने के लिए आॅफलाईन आवेदन बंद करते हुए 3 मई, 2019 से आॅनलाईन आवेदन स्वीकार कर आॅनलाईन ही अनुमति प्रदान की जाएगी। दो हजार वर्गमीटर से अधिक के समस्त भूखण्डों के भवन मानचित्र जेडीए की बिल्डिंग प्लान कमेटी तथा दो हजार मीटर तक भूखण्डों के समस्त भवन मानचित्र संबंधित जोन उपायुक्त द्वारा आॅनलाईन अनुमोदित किए जाएंगे।
श्री रविकंात ने बताया कि भूखण्ड के भवन मानचित्र के अनुमोदन के लिए आवेदक जेडीए वेबसाईट www.jda.urban.rajasthan.gov.in    या राजस्थान सरकार के SSO PORTAL  के माध्यम से लाॅगिन कर आवेदन कर सकेंगे। आवेदन करने के लिए आवेदक बिल्डिंग प्लान अपू्रवल सिस्टम में  BPAS  सेवाओं पर अपने भूखण्ड से संबंधित एवं स्वयं के दस्तावेज अपलोड कर आवेदन करना होगा। आवेदन के समय अपलोड किए जाने वाले दस्तावेजों की सूची आॅनलाईन सिस्टम पर उपलब्ध है। आवेदक द्वारा अपने भवन मानचित्र को निर्धारित प्रारूप यथा  DWG  आदि फाॅरमेट में तैयार कर अपलोड करना होगा। आॅनलाईन आवेदन प्रक्रिया के तहत आवेदक को यह सुविधा भी उपलब्ध करवाई गई है कि वह आॅनलाईन आवेदन सबमिट करने से पूर्व भवन मानचित्र का प्री-चैक भी कर सकेगा।
जेडीसी ने बताया कि आॅनलाईन प्रक्रिया के तहत आवेदक जिस भूखण्ड का भवन मानचित्र अनुमोदन करना चाहता है। उसकी बकाया लीज राषि, मौका निरीक्षण रिपोर्ट एवं स्वामित्व इत्यादि जानकारी आॅनलाईन ही दी जाएगी। प्रत्येक चरण की प्रक्रिया पूर्ण होने पर आवेदक को रजिस्टर्ड मोबाईल नम्बर पर मैसेज द्वारा सूचना दी जाएगी। साथ ही भवन मानचित्र अनुमोदन का शुल्क भी आॅनलाईन ही स्वीकार किया जाएगा।
सभी आवष्यक प्रक्रिया पूर्ण होने के उपरांत सक्षम समिति के अनुमोदन के उपरांत भवन मानचित्र डिजीटल साइन कर जारी कर दिया जाएगा।

No comments:

Post a Comment

Pages