हथकरघा उत्पादों के विकास और विस्तार के लिए बुनकर संघ प्रषिक्षण केन्द्र और संग्रहालय स्थापित करें : उद्योग आयुक्त डॉ. पाठक - Pinkcity News

Breaking News

Sunday, 12 May 2019

हथकरघा उत्पादों के विकास और विस्तार के लिए बुनकर संघ प्रषिक्षण केन्द्र और संग्रहालय स्थापित करें : उद्योग आयुक्त डॉ. पाठक

जयपुर,12 मई। उद्योग आयुक्त डॉ. कृष्णा कांत पाठक ने हथकरघा उत्पादों और परिधानों की बुनाई प्रषिक्षण की व्यवस्था सुनिष्चित करने की आवष्यकता प्रतिपादित करते हुए हथकर्घा उत्पादों की विकास यात्रा से बुनकरों और आमजन को अवगत कराने पर बल दिया हैं। उन्होंने कहा कि परंपरागत वस्त्र निर्माण, रंग संयोजन, देष में वस्त्र निर्माण विकास आदि की जानकारी देने के लिए जयपुर में प्रषिक्षण केन्द्र व संग्रहालय स्थापित किया जाना चाहिए।
आयुक्त डॉ. पाठक राज्य बुनकर सहकारी संघ के प्रधान कार्यालय, अजमेरी गेट स्थित बुनकर संघ के बिक्री केन्द्र और गोविंदगढ़ की बुनकर सहकारी समिति के कार्यो की जानकारी प्राप्त की। उन्होंने कहा कि बुनकर संघ फैबइण्डिया के सहयोग या उसकी तर्ज पर बुनकर परिधानों की श्रृंखला विकसित कर आमजन को नए से नए डिजाइन उपलब्ध कराएं। बुनकर संघ परंपरागत हथकरघा वस्त्रों की बाजार मांग के अनुसार डिजाइन से तैयार करने के लिए राज्य में कार्यरत फैषन टेक्नोलोजी संस्थानों और वहां अध्ययनरत छात्रों का सहयोग लिया जा सकते हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेष में एनआईएफटी, आईआईसीडी, आईआईएफटी जैसी संस्थाएं कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि जयपुर के बाइस गोदाम स्थित राजसिकों के परिसर को बुनकर प्रषिक्षण केन्द्र व संग्रहालय के रुप में विकसित करने की संभावना तलाषी जाए। उन्होंने कहा कि संग्रहालय में  देष में हथकरघा वस्त्र निर्माण के इतिहास, सूत के सृजन, पौराणिक नाम व प्रक्रिया आदि का इतिहास भी प्रदर्षित किया जाना चाहिए।
बुनकर संघ के प्रबंध निदेषक आर.के. आमेरिया ने बुनकर संघ की गतिविधियों व भावी कार्ययोजना की जानकारी दी। इस अवसर पर बुनकर संघ के अध्यक्ष, राजसिको की एमडी शकुंतला सिंह सहित बुनकर संघ के अधिकारी भी उपस्थित रहे।

No comments:

Post a comment

Pages