राव राजपूत समाज के सामूहिक विवाह समारोह में छह जोड़े परिणय सूत्र में बधें - Pinkcity News

Breaking

Tuesday, 7 May 2019

राव राजपूत समाज के सामूहिक विवाह समारोह में छह जोड़े परिणय सूत्र में बधें

जयपुर। अक्षय तृतीया के अबूझ सावे पर मंगलवार को शहर में शादियों की धूम रही। विभिन्न समाजों के सामूहिक विवाह सम्मेलन में सैंकड़ों जोड़े परिणय सूत्र में बंधे। अखिल भारतीय राव राजपूत महासभा की ओर से प्रथम सामूहिक विवाह सम्मेलन मुरलीपुरा के नारायण वाटिका स्थित श्री कृष्णा पैलेस मैरिज गार्डन एवं गुलाब पैराडाइज में आयोजित किया गया। इसमें छह जोड़े परिणय सूत्र  में बधें। महासभा के मुख्य संरक्षक सत्यनारायण राव ईसरदा, राष्ट्रीय महासचिव कैलाश सिंह बानसूर सहित सभी पदाधिकारियों ने नवदम्पति को आशीर्वाद प्रदान किया। सुबह  केडिया पैलेस चौराहा से नारायण वाटिका तक गाजे-बाजे के साथ दूल्हों की सामूहिक बारात रवाना हुई। विवाह स्थल पर बारात का गर्मजोशी से स्वागत किया गया। शुभ मुहूर्त में पाणिग्रहण संस्कार संपन्न हुआ। फेरों के साथ ही वर-वधु को कन्या भ्रूण हत्या नहीं करने का संकल्प भी दिलाया गया। गुजरात के बी डी राव चेरिटेबल ट्रस्ट की मुख्य ट्रस्टी अलका राव ने बतौर अतिथि के कहा कि सास और बहू में प्रेम रहे तो कोई भी परिवार नहीं टूट सकता। सास बहू को बेटी की तरह प्यार दें और बहू सास को मां की तरह सम्मान दें। रिश्तों में आपसी समझ हो तो कभी तलाक की नौबत नहीं आ सकती। उन्होंने विधवा पेंशन और विधवा विवाक का भी आह्वान किया। हाडौती राव राजपूत महासभा के अध्यक्ष महेश आमेरा ने कहा कि समाज के वरिष्ठ लोगों को ऐसे आयोजनों को प्रोत्साहित  करना चाहिए।
राष्ट्रीय अध्यक्ष राव-राजपूत महासभा के राव प्रहलाद सिंह देवपुरा ने कहा कि महासभा आगामी साल 16 फरवरी को 51 जोड़ों का सामूहिक विवाह का आयोजन करेगी।
वर-वधू को मिले अनेक उपहार:
वर-वधु को डबल बैड, गद्दा, बेडशीट, तकिया, ड्रेसिंग टेबल, चौकी, अलमारी, फ्रीज, एलइडी टीवी, 51 वर्तन, सिलाई मशीन, मिक्सी, प्लास्टिक की चार कुर्सी टेबल, सूटकेस, दुल्हन के 5 बेस, मंगलसूत्र, कान के टोप्स, कांटा, पायल, चुटकी, दूल्हे के सूट का कपड़ा, पैंट, शर्ट, सोने की अंगूठी, घड़ी उपहार स्वरूप प्रदान  किए गए।

No comments:

Post a Comment

Pages