‘‘ भगवान परशुराम चैबीस अवतारों में सर्वश्रेष्ठ’’ - Pinkcity News

Breaking

Tuesday, 30 April 2019

‘‘ भगवान परशुराम चैबीस अवतारों में सर्वश्रेष्ठ’’

  • भगवान परशुराम के व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर संगोष्ठी सम्पन्न

जयपुर 30 अप्रेल! सर्व ब्राह्मण महासभा की ओर से चलाये जा रहे प्रदेष स्तरीय  परशुराम जयंती समारोह के अन्तर्गत आज बनीपार्क स्थित महासभा के प्रदेश कार्यालय में  ‘‘भगवान परशुराम जी का व्यक्तित्व एवं कृतित्व’’ विषय पर विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया।
जयपुर शहर अध्यक्ष अनिल सारस्वत ने बताया कि पं. ओंकार शर्मा पं.  अशोक शास्त्री ने भगवान परशुराम जी की पूजा अर्चना कर मंत्रोच्चारण कर कार्यक्रम को प्रारम्भ किया। गोष्ठी की अध्यक्षता सर्व ब्राह्मण महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष पं. सुरेश मिश्रा ने की। इस अवसर पर समाज के प्रबुद्वजनों ने अपने विचार परशुरामजी पर रखें।
पं. मिश्रा ने कहा कि  भगवान परशुराम चैबीस अवतारों में श्रेष्ठ माने जाते हैं, वे वेद शास्त्रो के ज्ञाता, वेद सूत्रों के रचियता, श्राप व  आशीर्वाद दोनों देने में सक्षम है। वहीं वे प्रचण्ड योद्वा और दिव्य शास्त्रो में पूर्णतया दक्ष है। परशुराम जी ने भगवान कृष्ण, बलराम, भीष्मपितामह, कर्ण व अनेक योद्वाओं को गुरू के रूप में दीक्षा दी, वे चिरंजीवी है और भविष्य में कलंकी अवतार को भी दीक्षा देंगे और हम सभी को भगवान परशुराम के गुणों को आत्मसात करतें हुए जीवन पर्यन्त चलना चाहिए।
इस अवसर पर महामंडलेश्वर महंत पुरुषोत्तम भारती, संरक्षक एच.सी. गणेशिया ने भी अपने विचार व्यक्त किये। परशुराम जी के पद चिन्हो पर चलने की युवाओं से आहवान किया।
अन्य वक्ताओं में ज्योतिष पं.  मुकेश शर्मा एवं ज्योतिषाचार्य पं. पवन शर्मा ने कहा कि परशुराम जी की मातृ भक्ति के उदाहरण युवाओं तक पहुंचाने चाहिए और 15 अप्रेल से 15 मई के बीच जन्में बच्चे साक्षात भगवान परशुरामजी का अवतार होते है।
इस अवसर पर कार्यक्रम संयोजक सतवीर भारद्वाज एवं नरेश शर्मा ने बताया मनोज मिश्र, राकेश कौषिक, विजय भास्कर, डी.पी. शर्मा, युवा प्रकोष्ठ अध्यक्ष दिनेष षर्मशर्मा, लक्ष्मण शर्मा, विजय राघव, कैलाष शर्मा, पंकज सोडाला, पवन शर्मा, अजय दुबे, उमाषंकर, महेन्द्र शर्मा, राजेश शांडिल्य सहित एक दर्जन वक्ताओं ने परशुराम जी पर अपने विचार रखें। साथ ही सुप्रसिद्व भजन गायक पं. जगदीश नारायण शर्मा ने भजन की प्रस्तुती देकर कार्यक्रम को समापन किया।

No comments:

Post a Comment

Pages