"फायर की एनओसी स्थान सुरक्षित होने का पैमाना नहीं" - Pinkcity News

Breaking

Sunday, 21 April 2019

"फायर की एनओसी स्थान सुरक्षित होने का पैमाना नहीं"

जयपुर, 21 अप्रेल। होटल एसोसिएशन ऑफ जयपुर की ओर से रविवार को बनीपार्क स्थित एक होटल में आपदा प्रबंधन विषयक कार्यशाला हुई।  कार्यशाला में आपदा प्रबंधन के विभिन्न पहलुओं जैसे आपदा निकास, आग लगन पर सुरक्षा, चिकित्सीय आपदा पर प्राथमिक चिकित्सा पर विस्तार से चर्चा की गई। शैक्षणिक सत्र में सेफ्टी प्रोफेशनल एसोसिएशन ऑफ इंडिया के अधिकारियों ने हिस्सा लिया। कार्यशाला में आपदा से बचाव के लिए विषय विशेषज्ञों ने लाइव डेमो से कई महत्वपूर्ण जानकारी दी।
सेफ्टी प्रोफेशनल्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष एके सिंह ने कहा कि कार्यक्रम का अहम मकसद लोगों की सुरक्षा देना है। उन्होंने कहा कि देश भर में आपदाएं हो रही हैं। इस तरह के नुकसान से बचने के लिए  सिस्टम को अपडेट करना होगा। होटल हो या हॉस्पिटल्स सब स्थानों पर जान-माल की सुरक्षा करने के लिए वहां स्टॉफ को प्राथमिक उपचार व बचाव कार्य की ट्रेनिंग देनी होगी। उन्होंने बताया कि कुछ दिन पहले जोधपुर हाईकोर्ट में आग लग गई है। आग  में जरूरी डॉक्यूमेंट नष्ट हो गए। जब हाईकोर्ट जैसी जगह सुरक्षित नहीं है तो आम जगहों की सुरक्षा की बात बेमानी हो जाती है। उन्होंने कहा कि भारत सरकार ने डिजास्टर से बचने के लिए कई कानून भी  बनाए हैं, लेकिन वे लागू नहीं हो पा रहे हैं। इस संबंध में एसोसिएशन ने भी भारत सरकार को कई सुझाव दिए हैं। उन्होंने कहा सिर्फ फायर की एनओसी  लेने मात्र से किसी भी होटल के सुरक्षित होने का पैमाना नहीं है।
पब्लिक को यह बताना जरूरी है कि वे जिस जगह हैं वो उनके लिए कितनी सेफ है। डॉ. प्रसन्नजीत सिंघवी ने कहा कि एक्सीडेंड ही इंसिडेंट है। होटल्स हो या हॉस्पिटल्स स्टॉफ को प्राथमिक चिकित्सा की  ट्रेनिंग होनी चाहिए ताकि किसी भी व्यक्ति की जान बचाई जा सके। रिस्क है तो बचाव के पर्याप्त इक्विपमेंट भी होना बेहद जरूरी है।  भारत सरकार व गुजरात सरकार के आपदा प्रबंधन के सलाहकार स्वास्तिक जड़ेजा ने फायर सेफ्टी अहम बिन्दुओं पर प्रकाश डाला। सिविल डिवेंस के विजय सिंह  नरुका ने भी विचार व्यक्त किए।  इस मौके पर जयपुर की सभी होटल प्रतिनिधि संस्थाएं जैसे होटल एंड रेस्टोरेंट एसोसिएशन ऑफ राजस्थान और इंडियन हेरिटेज होटल्स एसोसिएशन की कार्यक्रम में अहम हिस्सेदारी रही। होटल एसोसिएशन ऑफ जयपुर के अध्यक्ष गजेंन्द्र लुनिवाल ने बताया कि कार्यशाला में करीब 100 से अधिक होटल प्रबंधन ने उत्साह से हिस्सा लिया। अंत में  होटल एसोसिएशन ऑफ जयपुर के सचिव मुकेश अग्रवाल ने सभी आगन्तुकों का आभार जताया।

No comments:

Post a Comment

Pages