रघुबर उर जयमाल देखि देव बरिसहिं सुमन.... - Pinkcity News

Breaking News

Sunday, 7 April 2019

रघुबर उर जयमाल देखि देव बरिसहिं सुमन....

  • -गलताजी में सामूहिक नवान्हपारायण पाठ में हुआ राम-जानकी विवाह

जयपुर। उत्तर भारत की प्रमुख एवं प्रधान श्रीवैष्णव पीठ श्रीगलताजी में पीठाधीश्वर स्वामी अवधेशाचार्य महाराज के सान्निध्य में  मनाए जा रहे आठ दिवसीय श्री रामजन्म महोत्सव के दूसरे दिन रविवार  को सामूहिक नवान्हपारायण पाठ में  राम-जानकी विवाह हुआ। भजन कलाकार लक्ष्मी नारायण की मंडली ने संगीतमय परायण में विवाह के अति मनोरम एवं दिव्य दृश्य से सभी श्रद्धालुजन हर्षित और आनंदित हो  उठे। गलतापीठाधीश्वर स्वामी अवधेशाचार्य महाराज ने उछाल की। भक्तों ने विवाहोत्सव का पूर्ण उत्साह और भक्तिभाव से रसास्वादन किया।  श्रीगलता पीठ के  अति प्राचीन स्वयंवर का दर्शन के विग्रह रामकुमारजी की विशेष आरती और अर्चना की गई। श्री राम कुमारजी के विग्रह की अर्चना वैवाहिक जीवन पर आने वाली समस्त बाधाओं व समस्यायों से रक्षा होती है।
इस अवसर पर श्याम भूतड़ा,  पंकज जोशी, सुरेश त्रिवेदी, डॉ. आर पी कोठारी,  बिहारी अग्रवाल,  गोपाल मोदानी,  नितिन साहनी, डॉ. चंद्रेश अरोड़ा सहित शहर के कई गणमान्य एवं विशिष्ट जन उपस्थित रहे। युवराज स्वामी राघवेंद्र ने बताया कि  8 से 12 अप्रेल तक शाम 6 से रात्रि 9 बजे तक नवान्ह पाठ होंगे।  13 अप्रेल को श्री रामनवमी के उपलक्ष्य में भगवान श्रीराम का जन्मोत्सव श्रद्धा और विश्वास के साथ मनाया जाएगा। सुबह 8 बजे गलताजी में गाजे-बाजे के साथ शोभायात्रा निकलेगी। इसमें महिलाएं सिर पर मंगल कलश लेकर चलेंगी। शोभायात्रा श्रीनिवासजी बालाजी से होकर पुन: गलताजी पहुंचेगी। 10 बजे हवन के साथ पूर्णाहुति होगी। दोपहर 12 बजे 21 हवाई गर्जनाओं के साथ श्रीराम लला का जन्माभिषेक होगा। सामूहिक महाआरती के बाद भजन और बधाइयां गाई जाएंगी।

No comments:

Post a comment

Pages