‘फोरम‘ का पांचवां वार्षिक सम्मेलन ‘इवेंटस्थान‘ - Pinkcity News

Breaking News

Tuesday, 2 April 2019

‘फोरम‘ का पांचवां वार्षिक सम्मेलन ‘इवेंटस्थान‘

  • इवेन्ट मैनेजमेंनट को उ़द्योग का दर्जा देने पर जोर, भविष्य उज्ज्वल

जयपुर, 02 अप्रैल, 2019। फैडरेशन आॅफ राजस्थान इवेन्ट मैनेजर्स (एफओआरईएम) का पांचवा वार्षिक आयोजन, ‘इवेंटस्थान‘ का आयोजन आज जयपुर स्थित, सीतापुरा, जेईसीसी में शुरू हुआ जिसमें आयोजित सत्रों के दौरान जो बाते उभर कर सामने आई उनमें इसे उद्योग का दर्जा देने, इसके विकास के लिए एक रोडमैप तैयार करने तथा इसके वर्तमान स्वरूप को और विस्तारित करने पर जोर दिया गया। साथ ही यह भी बताया गया कि इस उद्योग का भविष्य काफी उज्ज्वल है तथा इसका अभी और विस्तार होगा। फोरम के अध्यक्ष हरप्रीत बग्गा ने स्वागत भाषण दिया तथा महासचिव मोहित माहेश्वरी ने स्पेन, इटली और सिंगापुर सहित देश भर से आए इवेन्ट मैनेजर्स क¨ इस उ़द्योग का परिचय दिया।

पर्यटन विभाग के उप निदेशक, मार्केटिंग अजय कुमार शर्मा ने अपने उद्घाटन भाषण में प्रेजेन्टेशन के माध्यम से राजस्थान में पर्यटन की संभावनाओं एवं उपलब्धियों पर प्रकार डालते हुए कहा कि राजस्थान ने अपने लक्षित 12 मिलियन पर्यटकों का आंकड़ा पार कर लिया है और राजस्थान एक प्रसिद्ध वैडिंग डेस्टिनेशन के रुप में उभर रहा है। उन्होंने राजस्थान में इवेन्ट मैनेजर्स के लिए व्यापका संभावनाए भी व्यक्त की।

इससे बाद ‘ए सुपर हीरो‘ सेशन का संयोजन फोरम के पूर्व अध्यक्ष एवं इवेंट गुरू अरशद हुसैन ने करते हुए इवेंट मैनेजर्स को किसी भी आयोजन का आधार स्तंभ बताया। गुजरात से आए इवेंट मैनेजर हिमाशु शाह ने इस उद्योग के उन्नयन के लिए इसका रोडमैप बनाने मैपिंग ले आउट तैयार करने तथा समस्त कार्य को बांट कर किसी भी आयोजन को पूरा करने पर बल दिया। हारिनी मधिरा ने इवेंट मैनेजर्स को एक मां की तरह बताया और कहा कि जिस प्रकार मां अपने गर्भ में नौ माह शिशु को रखती है ठीक उसी तरह कोई इवेन्ट मैनेजर अपनी इवेन्ट से आशा रखता है और उसका नतीजा अच्छा आने पर वह उसी तरह से खुश होता है जैसे मां खुश होती है। सिंगापुर में इवेंट मैनेजमेंट कम्पनी चला रही ज्योति सिंह का कहना था कि इस क्षेत्र में व्यापक संभावनाएं हैं। उन्होंने आगे कहा कि इवेंट मैनेजमेंट की भूमिका काफी महत्चपूर्ण इस बात का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि इस वर्ष सिंगापुर में करीब 22 जगह भारतीय पर्व होली का आयोजन इवेंट मैनेमेंट कम्पनी के माध्यम से करवाया गया।

कानूनी जानकारी जरूरीः तेलंगाना चैम्बर आॅफ     इवेंट से आए नीरज ठाकुर ने कहा कि इवेंट मैनेजर्स को उनके ट्रेड से जुड़े कानूनो, आयकर आदि की जानकारी जरूरी है अन्यथा उन्हें अनावश्यक परेशान होना पड़ता है। उन्होंने कहा कि लिटीगेशन के लिए तैयार रहना इस उभरते हुए प्राॅफेशन के लिए काफी जरूरी है।

इसी प्रकार कुजिन जायका सेशन पूर्व एक्जीक्यूटिव शैफ ताज होटल्स रिसोर्ट एण्ड पैलेसेज अमरेन्द्र मिश्रा के संयोजन में आयोजित किया गया। मिश्रा ने टाॅक शो का आगाज करते हुए कहा कि किसी भी इवेंट के प्रमुख एलिमेंट्स में एक प्रमुख एलिमेंट फूड प्लानिंग होता है फिर भी इवेंट सारे एलिमेंट की भागीदारी से ही सफल होते हैं। उनका साथ देते हुए मास्टरशेफ इंडिया से प्रशंसित प्रियंका मलिक का कहना था कि किसी भी इवेंट मेें आंगतुक पहले आंखों से फिर नाक और उसके बाद मुंह से खाता है कहने का अर्थ यह हुआ कि फूड प्लान करने से पहले आयोजक के घर वालों और आने वाले अतिथियों के जायके की जानकारी का होना जरूरी है। ली चाट फैक्टरी के गौरव चैहान ने संस्कृति के अनुसार जायका भी बदलता है जिस प्रकार दिल्ली की चाट का जायका जयपुर में नहीं मिल सकता लेकिन हमार प्रयास उसे भी उपलब्ध कराना है उन्होंने विभिन्न प्रांतों के विशिष्ट व्यंजनों की जानकारी दी  साथ ही राजस्थानी कुजिन की लोकप्रियता पर भी प्रकाश डाला। डेजर्ट पेस्ट्रीज कैफे और एट द रेट की को फाउण्डर शैफ तेजस्वी चंदेला ने कहा कि वे अपनी कुजिन में भारतीय व्यंजनों को प्राथमिकता देती है। इससे पूर्व राजा रेंचों ने पपेट शो एवं मिमिक्री शो किया। इसके अलावा आज एन्टरटेनमेंट सेशन हरप्रीत बग्गा के संयोजन में हुआ जिसमें मोहेम्मद मोरानी, लोर्नार्डो कोर्लानी, गोयट रोहितानी, और एलिजाबेथ के बीच एन्टरटेनमेंट के विभिन्न पहलुओं पर चर्चा हुई। बैंण्ड बाजा बारात सेशन महावीर प्रसाद शर्मा के संयोजन में हुआ जिसमें ऋतुराज खन्ना, आरती मट्टू, गुंजल बंसल और लाडी ने संबन्धित विषय पर चर्चा की।

No comments:

Post a comment

Pages