जेकेके स्थापना दिवस समारोह पर 8 एवं 9 अप्रैल को ध्रुवपद गायन, तिगुलबंदी वादन और कथक नृत्य की होगी प्रस्तुति - Pinkcity News

Breaking News

Sunday, 7 April 2019

जेकेके स्थापना दिवस समारोह पर 8 एवं 9 अप्रैल को ध्रुवपद गायन, तिगुलबंदी वादन और कथक नृत्य की होगी प्रस्तुति

jkk के लिए इमेज परिणाम
जयपुर, 7 अप्रैल। जवाहर कला केंद्र (जेकेके) के स्थापना दिवस समारोह का उद्घाटन 8 अप्रैल को प्रातः 10.30 बजे मुख्य अतिथि के तौर पर राजस्थान सरकार की कला, संस्कृति, साहित्य, पुरातत्व एवं पर्यटन विभाग की प्रमुख शासन सचिव, श्रेया गुहा करेंगी। ‘निरंत...‘ फेस्टिवल के तहत बच्चों एवं बड़ों के लिए अनेक गतिविधियां आयोजित की जाएगी, जिनमें फिल्म स्क्रीनिंग, डूडल वॉल, वर्कशॉप्स और सांस्कृतिक प्रस्तुतियां शामिल होंगी। जेकेके के अतिरिक्त महानिदेशक (एडीजी), श्री फुरकान खान ने यह जानकारी दी।

चिल्ड्रन फिल्मस् की होगी स्क्रीनिंग
फेस्टिवल के प्रथम दिन बच्चों की प्रसिद्ध फिल्म ‘लिलकी‘ की स्क्रीनिंग प्रातः 10.30 बजे रंगायन सभागार में होगी। यह फिल्म एक दस वर्ष की लडकी लिलकी की कहानी पर आधारित है जो नैनीताल से है और घरेलू काम करती है।

डूडल वॉल और पोट्रेट एवं लाईन ड्राइंग वर्कशॉप
फेस्टिवल के दौरान दोनों दिन जेकेके के डोम पर प्रातः 10.30 से सायं 5 बजे डूडल वॉल एक्टिविटी होगी। इसमें बच्चे एवं विजिटर्स ड्राइंग अथवा कविता के माध्यम से जेकेके के प्रति अपने रचनात्मक उद्गार अभिव्यक्त कर सकेंगे। इसी प्रकार जेकेके के प्रिंट स्टूडियों-1 में पोट्रेट एवं लाईन ड्राइंग वर्कशॉप का आयोजन प्रातः 10.30 से 12 बजे तक किया जायेगा।

डॉक्यूमेंटरी फिल्म ‘इन सर्च ऑफ गोडावण‘ का होगा प्रदर्शन
जयपुर के वन्यजीव प्रेमियों के लिये गोडावण पर आधारित फिल्म ‘इन सर्च ऑफ गोडावण‘ का प्रदर्शन सायं 5 बजे से 6 बजे रंगायन सभागार में किया जायेगा। इस फिल्म का स्क्रीन प्ले एवं निर्देशन श्री वी. पी. धर द्वारा किया गया है। फिल्मस् डिविजन ऑफ इण्डिया के लिये निर्मित 52 मिनिट अवधि की यह डॉक्यूमेन्टरी फिल्म राज्य पक्षी पर आधारित पहली फिल्म है। आम जन में जागरूकता लाने के लिये इस फिल्म का प्रदर्शन किया जा रहा है ताकि तेजी से कम हो रही इस पक्षी की नस्ल को बचाने में सभी का सहयोग लिया जा सके।

शाम को मध्यवर्ती में होंगे सांस्कृतिक कार्यक्रम
समारोह में सांस्कृतिक कार्यक्रम सायं 7 बजे से रात्रि 9 बजे तक मध्यवर्ती में आयोजित किये जाऐंगे। डॉ. श्याम सुंदर शर्मा और डॉ. ओम प्रकाश नायर के ध्रुपद गायन से कार्यक्रमों की शुरूआत होगी। इसके पश्चात् शास्त्रीय संगीत पर आधारित तिगुलबंदी वादन के कार्यक्रम में श्री गुलजार हुसैन द्वारा वायलिन, श्री मोहम्मद उमर द्वारा दिलरूबा और श्री बिलाल हुसैन द्वारा गिटार पर प्रस्तुति दी जायेगी। इस अवसर पर जयपुर घराना के पं. राजकुमार जवड़ा द्वारा कथक नृत्य की प्रस्तुति दी जायेगी। फोक फ्यूजन के साथ प्रथम दिन के कार्यक्रमों का समापन होगा।

उल्लेखनीय है कि ‘निरंत...‘ फेस्टिवल के तहत बच्चों एवं बड़ों के लिए अनेक गतिविधियां आयोजित की जाएगी, जिनमें विजिटर्स के लिए प्रवेश निःशुल्क तथा प्रथम आओ प्रथम पाओं के आधार पर रहेगा। फेस्टिवल में पश्चिम क्षेत्र सांस्कृतिक केन्द्र, उदयपुर और उत्तर मध्य क्षेत्र सांस्कृतिक केन्द्र, प्रयागराज के सहयोग से जेकेके परिसर में दोपहर 3 बजे से सायं 5 बजे तक लोक नृत्य प्रस्तुत किए जाएंगे।

No comments:

Post a comment

Pages