टीपीएसडीआई को ‘एक्सीलेंस इन ट्रेनिंग एंड डेवलपमेन्ट’ के लिये छठे ग्लोबल ट्रेनिंग एंड डेवलपमेन्ट लीडरशिप अवार्ड्स में सम्मानित किया गया - Pinkcity News

Breaking News

Wednesday, 13 March 2019

टीपीएसडीआई को ‘एक्सीलेंस इन ट्रेनिंग एंड डेवलपमेन्ट’ के लिये छठे ग्लोबल ट्रेनिंग एंड डेवलपमेन्ट लीडरशिप अवार्ड्स में सम्मानित किया गया

tata power के लिए इमेज परिणाम
नई दिल्ली 13 मार्च, 2019: भारत की सबसे बड़ी एकीकृत विद्युत कंपनी टाटा पावर अपने कौशल विकास उपक्रम टाटा पावर स्किल डेवलपमेन्ट इंस्टिट्यूट (टीपीएसडीआई) के माध्यम से भारतीय विद्युत क्षेत्र और संबद्ध उद्योगों में कुशलता के अभाव को दूर करने का प्रयास करती है और युवाओं को रोजगार योग्य कुशलताओं का प्रशिक्षण देती है। इस प्रयास को देखते हुए टीपीएसडीआई को 16 फरवरी 2019 को ताज लैण्ड्स एंड में आयोजित छठे ग्लोबल ट्रेनिंग एंड डेवलपमेन्ट लीडरशिप अवार्ड्स में सर्वश्रेष्ठ परिणाम आधारित प्रशिक्षण के लिये ‘एक्सीलेंस इन ट्रेनिंग एंड डेवलपमेन्ट अवार्ड’ दिया गया है।
इस पुरस्कार की स्थापना वर्ल्ड एचआरडी कांग्रेस की ह्यूमन रिसोर्सेस डेवलपमेन्ट मैनेजमेन्ट कमिटी ने की है। कंपनी की ओर से टीपीएसडीआई के प्रमुख श्री जयवदन मिस्त्री ने यह पुरस्कार मुख्य अतिथि एलिस्टेयर शोफील्ड, निदेशक, मायब्रेन इंटरनेशनल लिमिटेड से प्राप्त किया।
यह पुरस्कार टीपीएसडीआई के उन प्रशिक्षण कार्यक्रमों के प्रभाव को सम्‍मानित करता है, जो प्रशिक्षणार्थियों की
कुशलता बढ़ाते हैं और इस प्रकार उनकी रोजगार योग्यता में भी सुधार आता है। अपनी संस्थापना के बाद से
टीपीएसडीआई ने 43,000 से अधिक लोगों को प्रशिक्षित किया है। टीपीएसडीआई के मजबूत प्रशिक्षण कार्यक्रमों से स्किल में लाभ मिला है और इस आईएसओः29990 प्रमाणित संस्थान के पास ऐसी प्रक्रिया है, जो प्रशिक्षण के
प्रभाव का मूल्यांकन करती है, जिसके लिये प्रशिक्षणार्थियों की कुशलता और ज्ञान को परखा जाता है और रोजगार प्राप्त करने के बाद भी उनका निरीक्षण किया जाता है। टीपीएसडीआई वर्तमान में संस्थान से प्रशिक्षित 75 प्रतिशत योग्य युवाओं को प्लेसमेन्ट देता है।
पुरस्कार प्राप्त करने पर टीपीएसडीआई के प्रमुख  जयवदन मिस्त्री ने कहा, ‘‘यह पुरस्कार उस गहन और
सकारात्मक प्रभाव का प्रमाण है, जिसे टीपीएसडीआई अपने प्रशिक्षणार्थियों के जीवन में लेकर आया है। लोगों के जीवन और उद्योग में बदलाव लाने पर हमें गर्व है, जिसके लिये प्रशिक्षणार्थियों को संबद्ध कुशलताओं से सशक्त
किया गया है। उद्योग को हमारे प्रशिक्षण पर विश्वास है और प्लेसमेन्ट की बड़ी संख्या इसका प्रमाण है।
टीपीएसडीआई हमारे प्रभाव की सराहना के लिये निर्णायक मंडल को धन्यवाद देता है। हम अपने प्रशिक्षण का
स्तर उन्नत करते रहेंगे और उद्योग में आने वाली कुशलताओं की गुणवत्ता बढ़ाएंगे।’’
टाटा पावर के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एवं प्रबंध निदेशक प्रवीर सिन्हा ने टीपीएसडीआई को पुरस्कार मिलने पर बधाई दी और कहा, ‘‘टाटा पावर में हम टीपीएसडीआई के माध्यम से वर्ष 2022 तक सरकार के ‘स्किल इंडिया’ के लक्ष्य को हासिल करने के लिये प्रतिबद्ध हैं। टीपीएसडीआई जिस प्रकार से आजीविका बढ़ाने वाली कुशलताओं से लोगों को सशक्त कर रहा है, उसे देखकर हम अत्यंत प्रसन्न हैं। ऐसे पुरस्कार हमें अपनी प्रशिक्षण पहलों का विस्तार करने के लिये प्रेरित करते हैं, ताकि अधिक से अधिक लोगों का जीवन समृद्ध हो और विद्युत क्षेत्र तथा समुदाय को लाभ मिले।’’
वर्तमान में टीपीएसडीआई के पास भारत में पाँच प्रशिक्षण केन्द्र हैं, जो टाटा पावर की सुविधाओं का उपयोग कर
रहे हैं: शहद- मुंबई; ट्रॉम्बे- मुंबई; मैथन- धनबाद, मूंदड़ा- कच्छ, गुजरात और जोजोबेरा- जमशेदपुर। यह संस्थान कौशल विकास के कई कार्यक्रम चलाते हैं, ताकि युवा प्रासंगिक रोजगार कुशलता प्राप्त कर सकें। टाटा पावर के अलावा टीपीएसडीआई अन्य कंपनियों के इंजीनियरों और तकनीशियनों को भी प्रशिक्षण देता है और इंजीनियरिंग कॉलेज विद्यार्थियों के लिये कोर्सेस की पेशकश करता है, ताकि उन्हें ऐसी कुशलता मिले, जो अकादमिक्स और उद्योग के बीच की दूरी को कम करे। टाटा पावर की सुविधाएं: शहद- मुंबई; ट्रॉम्बे- मुंबई; मैथन- धनबाद, मूंदड़ा- कच्छ, गुजरात और जोजोबेरा- जमशेदपुर।

No comments:

Post a comment

Pages