सूचना आयुक्त का निर्णय- गैंगस्टर आनंदपाल की मां को नहीं मिलेगी रोचनामचे की प्रतियां - Pinkcity News

Breaking News

Sunday, 24 March 2019

सूचना आयुक्त का निर्णय- गैंगस्टर आनंदपाल की मां को नहीं मिलेगी रोचनामचे की प्रतियां

  • अनुसंधान व गवाहों की सुरक्षा का दिया हवाला
संबंधित इमेज जयपुर, 24 मार्च। पुलिस एनकाउंटर में मारे गए चर्चित गैंगस्टर आनन्दपाल की मां श्रीमती निर्मल कंवर को मुठभेड़ के दिनों की पुलिस थाना सांवराद, लाडनूं एवं डीडवाना पुलिस थानों के रोजनामचा की प्रतियां सूचना का अधिकार के तहत नहीं मिलेगी। नागौर पुलिस द्वारा सूचना देने से इनकार करने को राजस्थान सूचना आयोग ने उचित मानते हुए आनन्दपाल की मां श्रीमती निर्मल कंवर की अपील खारिज कर दी। अपील के निर्णय में राज्य सूचना आयुक्त आशुतोष शर्मा ने कहा कि आपराधिक प्रकरणों का अनुसंधान व गवाहांे की सुरक्षा को ध्यान मंे रखते हुए सूचना का अधिकार के तहत ऐसी सूचना नहीं दी जा सकती।
आनन्दपाल की मां श्रीमती निर्मल कंवर ने नागौर पुलिस से 20 जून 2017 से 20 जुलाई 2017 तक की अवधि के लाडनूं, डीडवाना व सांवराद पुलिस थानों के रोजनामचा की प्रतियां मांगी थी। जून 2017 के तीसरे सप्ताह में ही आनन्दपाल की पुलिस मुठभेड़ में मौत हुई थी जिसके बाद नागौर जिले में उपद्रव हो गया था। नागौर पुलिस द्वारा सूचना देने से इनकार करने पर श्रीमती निर्मल कंवर ने राजस्थान सूचना आयोग में अपील की थी। नागौर पुलिस का कहना था कि उस समय की उपद्रव की घटनाओं की सीबीआई सहित अन्य जांचें चल रही हैं तथा पुलिस रोजनामचे में कई महत्वपूर्ण जानकारियां होने से सूचना नहीं दी जा सकती।
जांच व गवाहों की सुरक्षा का दिया हवाला
सूचना आयोग ने पुलिस की सूचना नहीं देने की कार्यवाही को सही माना। श्रीमती निर्मल कंवर की अपील खारिज करते हुए सूचना आयुक्त आशुतोष शर्मा ने निर्णय में कहा कि मुठभेड़ के बाद उपद्रव के समय की थानों की रोजनामचा की प्रतियां दिए जाने से आपराधिक प्रकरणों की तफतीश तथा गवाहों की सुरक्षा प्रभावित होने की आशंका है। ऐसी सूचनाएं आरटीआई एक्ट की धारा 8 1 छ एवं 8 1 ज के तहत प्रकटन से छूट प्राप्त है और ऐसी सूचनाएं नहीं दी जा सकती।
पहले भी किया था इनकार
उल्लेखनीय है कि पूर्व मंे भी सूचना आयोग ने आनन्दपाल की पोस्टमार्टम रिपोर्ट की प्रति थर्ड पार्टी को दिलाने से इनकार कर दिया था क्योंकि पोस्टमार्टम रिपोर्ट की प्रति आनन्दपाल के परिजनों को मिल चुकी थी।

No comments:

Post a comment

Pages