मेहंदीपुर बालाजी होली लक्खी महोत्सव में लाखों श्रद्धालुओं ने लिया भाग, पुलिस की रही माकूल व्यवस्था - Pinkcity News

Breaking News

Wednesday, 27 March 2019

मेहंदीपुर बालाजी होली लक्खी महोत्सव में लाखों श्रद्धालुओं ने लिया भाग, पुलिस की रही माकूल व्यवस्था

मेहंदीपुर बालाजी। पूर्वी राजस्थान में स्थित प्रसिद्ध धार्मिक नगरी मेहंदीपुर बालाजी में होली लक्खी महोत्सव का शांतिपूर्ण समापन हो गया। इस महोत्सव में लाखों श्रद्धालुओं ने भाग लिया। लेकिन पुलिस की बेहतर व्यवस्थाओं के चलते श्रद्धालुओं को किसी प्रकार की परेशानी नहीं हुई। इस बार के होली महोत्सव में पुलिस द्वारा खास इंतजाम किए गए थे। जिससे आम लोगों को भी राहत मिली। ऐसे में पुलिस की बेहतर व्यवस्थाओं आम लोगों में सकारात्मक सोच बढी है। जानकारी के अनुसार मेहंदीपुर बालाजी में प्रतिवर्ष लाखों की तादात में श्रद्धालु आते हैं। लेकिन भीड़भाड़ के दौरान यहां की यातायात व्यवस्था पूरी तरह खराब रहती है। लेकिन इस बार पुलिस ने सड़क से थड़ी ठेले वाले व दुकानदारों को चेतावनी देकर सड़क से अतिक्रमण हटा दिया। जिससे श्रद्धालु व आम लोगों ने  राहत की सांस ली। इसी प्रकार पुलिस ने सादा वर्दी में व वर्दी धारी पुलिस कर्मी बालाजी  मंदिर के आस-पास तैनात कर संदिग्ध जेब तराशों पर गहरी नजर रखी गई। इस दौरान  कुछ लोगों को संदेह के आधार पर पकड़ा गया। जिसके चलते श्रद्धालुओं को जेब तराशी की घटना से राहत मिली। इसके अलावा मेहंदीपुर बालाजी पुलिस ने होली महोत्सव के दौरान एक धर्मशाला में ठहरे हरियाणा के संदिग्ध बदमाशों को पकड़कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया। जो एक बड़ी कार्रवाई है। इन लोगों को पुलिस ने जान पर खेल कर पकड़ा। इसके अलावा मेहंदीपुर बालाजी थाना प्रभारी सीमा सिनसिनवार ने दौसा पुलिस अधीक्षक प्रहलाद सिंह कृष्णियां व  उच्च अधिकारियों के निर्देश पर एक ऐसे बदमाश को गिरफ्तार किया है, जिस पर 10 हजार का इनाम घोषित था। गेरोटा निवासी रामावतार नाम का  बदमाश अनेकों मामलों में वांछित चल रहा था। उसके कब्जे से पुलिस ने 10 लाख की रकम भी बरामद कर ली। पुलिस की ताबड़तोड़ कार्रवाई से अपराधी भूमी गत हो गए। मेहंदीपुर बालाजी में आए दिन होने वाली आपराधिक घटनाओं में एकाएक भारी कमी आई है। हालांकि सूत्रों से प्राप्त जानकारी अनुसार जेब तराशी में  सम्मिलित कुछ लोग पुलिस की कार्रवाई से बोखला कर पुलिस की  उच्च अधिकारियों को मनगढ़ंत शिकायत कर स्थानीय पुलिस का हौसला गिराना चाहते हैं। जिससे कुछ स्थानीय लोगों ने गहरी नाराजगी है। ग्रामीणों ने बताया कि इससे पहले भी कई साल पहले तत्कालीन थाना प्रभारी ने जेब तराश सरगना व  बदमाश प्रवृत्ती के लोगों के खिलाफ सख्ती की थी। जिसकी कुछ असामाजिक तत्वों ने राजनीतिक लोगों से सांठगांठ कर झूठी शिकायतें कर थाना अधिकारी को हटवा दिया था। यहां यह बात गौरतलब है जी मेहंदीपुर बालाजी में देश के अनेकों हिस्सों से श्रद्धालु आकर ठहरते हैं। श्रद्धालु के भेष में यहां संदिग्ध लोग भी ठहर सकते हैं। जिससे पुलिस की सख्ती जायज मानी जा सकती है। इधर मेहंदीपुर बालाजी थाना प्रभारी सीमा सिनसिनवार ने बताया कि पुलिस कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए अपना काम कर रही है। जो पुलिस की जिम्मेदारी में आता है। उन्होंने कहा कि आपराधिक लोगों के खिलाफ कार्रवाई जारी रहेगी। वहीं आस्था धाम की व्यवस्था में पुलिस कोई कोर कसर नहीं रखेगी।

No comments:

Post a comment

Pages