एक्सिस बैंक की 4000 वी शाखा का पुणे के खराड़ी में शुभारंभ - Pinkcity News

Breaking News

Monday, 25 March 2019

एक्सिस बैंक की 4000 वी शाखा का पुणे के खराड़ी में शुभारंभ

· पिछले दो वित्तीय वर्षों में अकेले पुणे जिले में बैंक ने शुरू की 15 नई शाखाएं
· पुणे जिले में 71 शाखाएं, 489 एटीएम्स और 195 रिसाइकलर्स हैं और पुरे महाराष्ट्र राज्य में 432 शाखाएं, 2123 एटीएम्स और 788 रिसाइकलर्स हैं
· वर्तमान वित्तीय वर्ष में बैंक ने भारत में 297 नई शाखाएं शुरू की हैं
· हर एक भारतीय नागरिक को 5 किमी परिसर में बैंकिंग सुविधा उपलब्ध हो इस भारत सरकार की नीति के अनुसार शाखा विस्तार की पहल चलायी जा रही है

 
पुणे, 25 मार्च, 2019: देश के हर इलाके में अधिकतम ग्राहकों को बैंकिंग सेवा सुविधाएं मिले इस उद्देश्य को पूरा
करने के लिए भारत की तीसरी सबसे बड़ी नीजि क्षेत्र की बैंक एक्सिस बैंक ने अपनी 4000 वी शाखा का शुभारंभ पुणे में खराड़ी में किया है। नई शाखा का उद्घाटन एक्सिस बैंक के एमडी और सीईओ श्री. अमिताभ चौधरी और
एक्सिस बैंक के प्रेसिडेंट और हेड ब्रांच बैंकिंग  रवि नारायणन ने किया।
नई शाखा में एक्सिस बैंक के सभी ग्राहकों के लिए सेविंग्स और करंट अकाउंट सेवा, डिपाजिट और लोन योजना,
लॉकर सुविधा आदि कई सुविधाएं उपलब्ध कराई गई हैं। साथ ही डिजिटल सेवाएं भी यहाँ पर उपलब्ध हैं।
इस अवसर पर एक्सिस बैंक के सीईओ और एमडी अमिताभ चौधरी ने कहा, कि यह महत्त्वपूर्ण सफलता पाकर हम सभी खुश हैं। ब्रांच बैंकिंग हमारी विकास नीति का अहम् हिस्सा है और हम मानते हैं कि, हमारी शाखाओं द्वारा ज्यादा से ज्यादा डिपॉजिट्स जमा किए जाने के साथ-साथ सभी प्रकार के उत्पादनों के मामले में बैंक की अधिग्रहण नीति को चालना देने में हमारी शाखाएं भारी योगदान दे रही हैं और आगे भी देती रहेंगी। हमारी हर नई शाखा हमारे लिए अधिकतम ग्राहकों के साथ जोड़े जाने के अवसर निर्माण करती है, ग्राहकों के साथ हमारे संबंध गहरे होते जाते हैं, हम उनकी जरूरतें और अच्छे से समझ सकते हैं और उन्हें विशेष सेवाएं प्रदान कर सकते हैं। 31 दिसंबर 2019 के आंकड़ों के अनुसार एक्सिस बैंक की करीबन 17% शाखाएं ग्रामीण इलाकों में हैं और उनमें से अधिकतम शाखाएं ऐसे इलाकों में हैं जहाँ आजतक बैंकिंग सेवाएं कभी पहुंची ही नहीं थी। देशीय कर्जों में पिछले साल की तुलना में 18% वृद्धि हुई है और रिटेल कर्जों में 20% वृद्धि हुई है। बैंक के सेविंग्स एकाउंट्स डिपॉजिट्स में पिछले साल की तुलना में 15% वृद्धि हुई है और सीएएसए डिपॉजिट्स में 17% वृद्धि हुई है और कुल डिपॉजिट्स में उनकी मात्रा 46% है। शाखाओं द्वारा दिए जानेवाले रिटेल कर्जों में हर साल बढ़ोतरी होती जा रही है। वित्तीय वर्ष 2013 में कुल कर्जों में रिटेल कर्ज 36% था और वित्तीय वर्ष 2018 में 50% तक बढ़ोतरी हुई। विकास संभावनाओं वाले स्थान चुनना, कर्मचारिओं की क्षमता बढ़ाने वाली तकनीक का उपयोग और छोटी शाखा फॉर्मेट इनमें सहाय्यक होने वाले आधुनिक विश्लेषण के आधार पर शाखा नेटवर्क विस्तार से बैंक को कई लाभ मिले हैं।
एक्सिस बैंक के प्रेसिडेंट और हेड ब्रांच बैंकिंग रवि नारायणन ने कहा कि पुणे व्यापार, उद्यम का अहम् केंद्र है। यहाँ कई लघु, मध्यम उद्यम, इंजीनियरिंग और ऑटो कंपनियां हैं और आगे चलकर इन सभी में भारी वृद्धि होगी। विकास संभावनाएं और ग्राहकों को मांगों को मद्देनजर रखते हुए हमने बैंक के शाखा नेटवर्क में लगातार वृद्धि की है। पिछले दो वित्तीय वर्षों में हमने पुणे जिले में 15 शाखाएं शुरू की हैं। अब शहर में हमारी 71 शाखाएं हैं और उनमें से 4 शाखाएं ग्रामीण इलाकों में हैं।
उन्होंने बताया कि देशभर में एक्सिस बैंक की 4000 शाखाएं, 12290 एटीएम्स और 4421 रिसाइकलर्स हैं। उनमें से 432 शाखाएं 2123 एटीएम्स और 788 रिसाइकलर्स महाराष्ट्र में हैं और 71 शाखाएं, 489 एटीएम्स और 195 रिसाइकलर्स पुणे जिले में हैं।
देश में दूर तक फैले इलाकों में अपनी बैंकिंग सुविधाओं का विशाल नेटवर्क स्तापित करते हुए यह बैंक अपने
सीएसआर कार्यक्रमों का भी प्रभाव बढ़ा रही है। बैंक के जरिए प्रत्यक्ष रूप से चलाए जा रहे सीएसआर कार्यक्रमों में गरीबी दूर करना, वित्तीय साक्षरता और वित्तीय सहयोग पर जोर देकर ग्रामीण विकास, पर्यावरण संवर्धन, शिक्षा, कौशल विकास इन कार्यक्रमों का समावेश है। एबीएफ ने महाराष्ट्र सरकार के साथ मिलकर अकाल पीड़ित 1000 गावों की स्थिति, विकास की कमी और अन्य सामाजिक समस्याओं के बारे में लाने के लिए कार्य किया है। इन गावों को 'आदर्श गांव' बनाकर एबीएफ वहां पर बैंकिंग सुविधाएं लाने के लिए वित्तीय सहयोग और वित्तीय साक्षरता की पहल चलाएगा।

No comments:

Post a comment

Pages